जमानत पर छूटे आकाश का हुआ भव्य स्वागत

0

इंदौर : वृत्त संस्था  | नगर निगम के एक अधिकारी को क्रिकेट के बल्ले से पीटने के कारण गिरफ्तार किए गए इंदौर तृतीय से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक आकाश विजयवर्गीय के रविवार सुबह जमानत पर जेल से बाहर आने पर उनके समर्थकों ने उनका भव्य स्वागत किया। उन्होंने जश्न मनाते हुए हवाई फायरिंग भी की। अपने समर्थकों के साथ जेल पहुंचे आकाश के पिता और भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने जेल के बाहर उनका स्वागत किया। उन्होंने कैलाश को माला पहनाई और हवाई गोलीबारी करते हुए और रास्ते में आतिशबाजी करते हुए उन्हें घर तक लाए।

घर आने से पहले आकाश भाजपा कार्यालय गए, जहां उन्हें फूल और मिठाइयां भेंट की गई। उन्होंने अपने समर्थकों का धन्यवाद किया और कहा कि उन्होंने जेल में अच्छा समय बिताया। उन्होंने वादा किया कि वे क्षेत्र के लोगों के लिए काम करते रहेंगे। उन्होंने उम्मीद जताई कि उन्हें दोबारा ‘बल्लेबाजी’ करने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

इंदौर के एक अन्य विधायक और कैलाश विजयवर्गीय के करीबी विश्वस्त रमेश मैंडोला भी उनकी घर तक की यात्रा में साथ मौजूद रहे।

रहने के लिए जानलेवा घोषित किए गए एक घर को खाली कराने की कोशिश कर रहे नगर निगम के एक अधिकारी को क्रिकेट के बल्ले से पीटने के कारण भाजपा विधायक आकाश चार दिनों से जेल में थे। भोपाल की विशेष अदालत से शनिवार को जमानत मिलने के बाद विधायक आकाश विजयवर्गीय रविवार सुबह जेल से बाहर आ गए।

जमानत की घोषणा करते हुए अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश एस.के. सिंह ने कहा कि मामले की डायरी में उस जर्जर मकान के जानलेवा घोषित किए जाने का उल्लेख करने वाले दस्तावेज नहीं थे।

भाजपा विधायक को प्रदेश में बिजली कटौती के खिलाफ बिना इजाजत प्रदर्शन करने के मामले में भी जमानत मिल गई।

अदालत ने पहले मामले में 50,000 रुपये के और दूसरे मामले में 20,000 रुपये के जमानती बॉन्ड पर जमानत दी है।

अदालत का आदेश आने के बाद आकाश ने ट्वीट किया, “सत्यमेव जयते।”

You might also like