‘भारत माता की जय’ ही भक्ति, ‘वंदे मातरम’ का उद्घोष ही शक्ति है : मोदी

0

दरभंगा – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि ‘हमारे लिए तो भारत माता की जय ही भक्ति है और वंदे मातरम का उद्घोष ही जीवन की शक्ति है, परंतु कई लोगों को इसे बोलने में भी परेशानी आती है।’ उन्होंने साथ ही आतंकवाद की चर्चा करते हुए कहा कि आतंकवाद से सबसे ज्यादा नुकसान देश के गरीबों का हुआ है।

दरभंगा में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के प्रत्याशी के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि आतंकवाद के कारण आज जो पैसे गरीबों के कल्याण में खर्च किए जा सकते थे, उससे बंदूक और सुरक्षा में खर्च करने पड़ते हैं, और इसका नुकसान गरीबों को उठाना पड़ता है।

प्रधानमंत्री ने महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा, “ये लोग कहते हैं कि आतंकवाद कोई मुद्दा ही नहीं है। हमारे पड़ोस में आतंकवाद की फैक्ट्रियां चल रही हैं। पड़ोसी श्रीलंका में 350 मासूम लोगों की इसी आतंकवाद ने जान ले ली और ये महामिलावटी कहते हैं कि आतंकवाद मुद्दा ही नहीं।”

प्रधानमंत्री ने विरोधियों पर कटाक्ष करते हुए आगे कहा, “आपके लिए आतंकवाद कोई मुद्दा नहीं, लेकिन नए भारत के लिए यह बड़ा मुद्दा है। ये नया हिंदुस्तान है, ये आतंक के अड्डे में घुसकर मारेगा।” तीन चरणों के मतदान के बाद राजग की बढ़त का दावा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “तीन चरणों के मतदान के बाद ही जो लोग एयर स्ट्राइक पर सबूत मांगते थे वे अचानक गायब हो गए। जो पाकिस्तान का पक्ष ले रहे थे, वे अब मोदी और ईवीएम को गाली देने लगे हैं।”

मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत मैथिली भाषा में करते हुए कार्यकर्ताओं में उत्साह भरा। उन्होंने कहा कि ‘ये जो लहर है वह ललकार है।’ उन्होंने कहा, “21 वें सदी में पहली बार दिल्ली की सरकार चुन रहे नौजवान इस चुनाव में नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें पुरानी बातें, जात-पात के समीकरण समझ नहीं आते। वे ठान के चले हैं कि 21 वें सदी का भारत उनकी आकांक्षाओं के अनुरूप हो।” दरभंगा में राजग की ओर से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गोपाल जी ठाकुर को प्रत्याशी बनाया है। दरभंगा में चौथे चरण में 29 अप्रैल को मतदान होगा।

You might also like