दिल्ली हिंसा पर बड़ा खुलासा, दिल्ली पुलिस को पहले ही मिले थे हिंसा के 6 अलर्ट

0

नई दिल्ली : पोलिसनामा ऑनलाइन –  नागरिकता संशोधन कानून पर पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में लगातार हिंसा हो रही है। जिसमें मरने वालों की संख्या 35 तक पहुंच गयी है। जबकि अर्द्धसैन्य एवं दिल्ली पुलिस बल के कई कर्मियों समेत 170 से ज्यादा लोग घायल हो गए। इस बीच एक बड़ी खबर सामने आई है। जिसमें मीडिया रिपोर्ट की मानें तो इंटेलीजेंस विंग ने दिल्ली पुलिस को बीजेपी नेता कपिल मिश्रा के कथित भड़काऊ बयान के बाद ही हिंसा की आशंका को देखते हुए कुल छह अलर्ट जारी किए थे, फिर भी पुलिस ने जरुरी कदम नहीं उठाए। जिसके बाद से दिल्ली पुलिस पर लापरवाह होने के आरोप लग रहे हैं।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने संवेदनशील इलाकों में अतिरिक्त जवानों की तैनाती करने को भी कहा था, लेकिन इन सभी अलर्ट की अनदेखी की गई। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली पुलिस की स्पेशल ब्रांच और इंटेलीजेंस विंग ने उत्तर-पूर्वी जिले और पुलिस को वायरलेस रेडियो के जरिए कई मैसेज भेजे थे।  पहला मैसेज रविवार दोपहर 1:22 बजे कपिल मिश्रा के भड़काऊ ट्वीट करने के कुछ देर बाद भेजा गया था। कपिल मिश्रा ने अपने भड़काऊ ट्वीट में दोपहर 3 बजे मौजपुर चौक पर लोगों को नागरिकता कानून के समर्थन में इकट्ठा होने को कहा था। जिसके बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल ब्रांच और इंटेलीजेंस विंग ने मौजपुर में जवानों की तैनाती करने और चौकसी बढ़ाने का अलर्ट जारी किया था। लेकिन दिल्ली पुलिस ने इन पर खास ध्यान नहीं दिया।

हालांकि, दिल्ली पुलिस अभी भी कह रही है कि अलर्ट मिलने के तुरंत बाद प्रभावी कदम उठाए गए थे। एक अधिकारी के मुताबिक, अलर्ट मिलने के तुरंत बाद पुलिस एक्टिव हो गई थी, लेकिन CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने पथराव करना शुरू कर दिया था। इसके बाद भी पुलिस ने हालात को काबू में कर लिया।

You might also like