बड़ी खबर : चंद्रयान-2 को लेकर ISRO ने दी एक और नई जानकारी

0

बैंगलोर : पुलिसनामा ऑनलाइन – भारत का महत्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान-2‘ के लैंडर ‘विक्रम’ का चांद पर उतरते समय जमीनी स्टेशन से संपर्क टूट गया। सपंर्क तब टूटा जब लैंडर चांद की सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर था। पिछले दिनों इसरो ने बताया कि ऑर्बिटर ने लैंडर विक्रम की लोकेशन का पता लगा लिया है, जिसके बाद से लैंडर विक्रम से संपर्क साधने की उम्मीद एक बार फिर जगी है। हालांकि लैंडर विक्रम से संपर्क साधना वैज्ञानिकों के लिए आसान नहीं हो रहा है। इसरो लगातार चंद्रयान-2 के मिशन को लेकर जानकारी सांझा कर रहा है।

इसरो ने आज फिर इसकी जानकारी दी है। बताया कि विक्रम लैंडर से अबतक संपर्क नहीं हो सका है लेकिन कोशिशें जारी हैं। इसरो ने आज ट्वीट कर लिखा कि है कि ‘चंद्रयान- 2 के ऑर्बिटर ने विक्रम लैंडर का पता तो लगा लिया, लेकिन उससे संपर्क नहीं हो पा रहा है। लैंडर से संपर्क स्थापित करने की सारे संभव प्रयास किए जा रहे हैं। वहीं एक अधिकारी ने बताया कि ‘चंद्रयान-2 का लैंडर ‘विक्रम चांद की सतह पर सलामत और साबुत अवस्था में है और यह टूटा नहीं है। हालांकि हार्ड लैंडिंग की वजह से यह झुक गया है तथा इससे पुन: संपर्क स्थापित करने की हरसंभव कोशिश की जा रही है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like