जिंदा महिला को बिना जांच किए मृत घोषित किया, निजी अस्पताल में परिजनों का हंगामा

0

किशनगंज. ऑनलाइन टीम – किशनगंज के फरिंगगोला की रहने वाली एक महिला हृदय रोग से पीड़ित थीं। सदर थाना क्षेत्र के पश्चिम पाली में अवस्थित निजी नर्सिंग होम उनका इलाज डॉ आसिफ रेजा की निगरानी में चल रहा था । शनिवार की सुबह मरीज की हालत बिगड़ने पर डॉक्टर ने बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया और आईसीयू में भर्ती कराने की सलाह दी। महिला के परिजन आनन-फानन में इसे लेकर रेडियंट नर्सिंग होम पहुंचे।

मरीज के परिजनों के मुताबिक यहां पर अस्पताल के डॉक्टर ने कुछ देर तक मरीज को रोककर रखा फिर बिना चेकअप किए महिला को मृत घोषित कर दिया। इससे गुस्साये लोगों ने हॉस्पिटल में जमकर तोड़फोड़ करना शुरू कर दिया।

पूर्णिया ले जाने के दौरान हुई मौत : घटना की सूचना के कुछ देर बाद टाउन थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर श्याम किशोर यादव दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे तथा लोगों को शांत कराने में जुट गये। उधर सूचना मिलने एसडीओ शाहनवाज अहमद नियाजी ने भी मौके पर पहुंच आक्रोशित लोगों को शांत कराया। इसके बाद इलाज के लिए मरीज के परिजन महिला को लेकर पूर्णिया रवाना हो गये। वहीं पूर्णिया ले जाने के दौरान महिला की मौत हो गई।

You might also like