CAREER TIPS : इन कोर्सेज की करें पढ़ाई, मिलेंगी ज्यादा से ज्यादा सैलरी

0

पुणे : समाचार ऑनलाइन – आज कल ज्यादातर युवा नौकरी के लिए परेशान रहते है। कइयों की शिकायत रहती है कि उन्हें पढ़ाई के बाद नौकरी नहीं मिल पाती है। जिससे वह काफी निराश हो जाते है और इससे मानसिक तनाव भी बढ़ता है। ऐसे में आपको सही कोर्सेज और गाइडलाइन की जरुरत है। जिससे आप अपने क्षमता के हिसाब से कोर्सेज का चुनाव कर सको। दरअसल भारत में पारम्परिक नौकरियों की रफ़्तार थोड़ी कम है लेकिन डिजिटल अर्थव्यवस्था तो बड़ी तीव्र गति से बढ़ रही है जो  लाखों युवकों को रोजगार प्रदान करता है। अतः डिजिटल क्षेत्र से आज के युवा बड़ी आसानी से जुड़ कर उच्च वेतन अर्जित कर सकते हैं।

इन कोर्सेज की करें पढ़ाई, मिलेंगी ज्यादा सैलरी –

1.  ग्रैफिक डिजाइनिंग कोर्स – यदि आप अपने विचारों और अवधारणाओं को विजुअलाइज कर सकते हैं तथा उसकी उत्कृष्ट प्रेजेंटेशन में माहिर हैं तो आप को यह कोर्स करना चाहिए। ग्राफिक डिजाइनर मूल रूप से सम्मोहित करने वाले कवर पेज या पत्रिका, न्यूज पेपर या सामाजिक मीडिया के सभी इंफ़ोग्राफ़िक्स का काम करते हैं। एक अच्छा ग्राफिक डिजाइनर के लिए काम की अपार संभावनाएं है। 3 से 4 महीने के ग्राफिक डिजाइनिंग कोर्स कर जिसके अंतर्गत आप सॉफ्टवेयर से जुड़े बुनियादी ज्ञान जैसे  फोटोशॉप, कोरल ड्रा तथा इनडिजाइन में मास्टरी हासिल कर किसी भी कंपनी में क्रिएटिव डायरेक्टर, लोगो डिजाइनर, विज़ुअल इमेज डेवलपर, इंटरफेस डिज़ाइनर, आर्ट प्रोडक्शन मैनेजर के रूप में कार्य कर सकते हैं।

2.  वेब डिजाइनिंग कोर्स – भारत की उभरती डिजिटल अर्थव्यवस्था ने युवा प्रोफेशनल्स के लिए रोजगार के कई अवसर उपलब्ध कराये हैं। इनमें से एक मुख्य कोर्स है वेब डिजाइनिंग का। आजकल हर कोई अपना दायरा बढ़ाना चाहता है तथा इनटरनेट तक पहुंचना चाहता है इसलिए हर कोई अपनी एक वेबसाईट बनाना चाहता है। वेब डिजाइनिंग का शॉर्ट टर्म कोर्स कर आप एक नई तथा प्रोफेशनल वेबसाईट बनाने की पूर्ण जानकारी प्राप्त कर एक आकर्षक नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। इसके साथ साथ अपना खुद का व्यवसाय भी कर सकते हैं। इसके साथ ही इच्छा के अनुरूप फ्रीलांस आधार पर काम करके वेब-डिजाइनर के रूप में एक अच्छा पैकेज प्राप्त कर सकते हैं।

3.  एनीमेशन कोर्स –  आजकल के डिमांड वाले कोर्सों में से एक है एनीमेशन का कोर्स। इस कोर्स को करने के बाद आप एडवर्टाइजिंग कंपनियों। कार्टून इंडस्ट्री, सिनेमा इंडस्ट्री तथा अन्य डिजिटल डोमेन में बड़ी आसानी से अपनी योग्यता के अनुरूप नौकरी पाकर अच्छी रकम कमा सकते हैं। इसके लिए अपने कॉलेज स्टडी के दौरान ही कोर्स कर  इसकी पूर्ण जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

4.  कंटेंट राइटिंग कोर्स – लेखन को हमेशा से बुद्धिजीवियों का पेशा समझा जाता रहा है लेकिन पिछले कुछ दशक से समाज में एक नई क्रांति आई है और इस क्रांति की वजह से लेखन शैली का स्वरुप बिलकुल बदल गया है। अब लेखन पाठकों की इच्छा और आवश्यक्ता के अनुरूप की जाती है। अजकल प्रोफेशनल कंटेंट राइटर की बहुत मांग है। इस कोर्स को करने के बाद आप मार्केटिंग टार्गेटेड कंटेंट, एससीओ रिलेटेड कंटेंट,वायरल कंटेंट या फिर वीडियो स्क्रिप्ट लिखकर अच्छी कमाई कर सकते हैं तथा अपनी विशिष्ट योग्यता के अनुसार किसी अच्छी कंपनी में नौकरी भी पा सकते हैं।

5.  GST के कोर्स कर बनाएं करियर – देश में गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) को करीब-करीब 3 साल पूरा हो गया है। टैक्स प्रणाली में हुए इतने बड़े बदलाव की वजह से आज भी कई व्यापारियों और जनता के लिए जीएसटी को समझना मुश्किल है। साथ ही जीएसटी के नियमों में भी कई बदलाव किए गए हैं।  ऐसे में कई ऐसे कोर्स भी शुरू किए गए हैं, जिससे आप ना सिर्फ जीएसटी को समझ सकते हैं, बल्कि उसमें अपना करियर भी बना सकते हैं।

6.  आईसीएआई के कोर्स- भारतीय लागत लेखाकार संस्थान (ICAI) ने एक जीएसटी कोर्स की शुरुआत की है, जिसके माध्यम से जीएसटी की पढ़ाई की जा सकती है। संस्थान ने प्रोफेशनल्स के लिए यह कोर्स शुरू किया है। यह जीएसटी के बारे में सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम है।

7.  विदेशी भाषा – पूरी दुनिया में भारत के बढ़ते कारोबार ने युवाओं के लिए नौकरी के द्वार खोल दिए हैं। दुनिया कि दिग्गज कंपनियां भारत में अपने कारखाने लगा रही हैं और भारतीय सामानों का दबदबा पूरी दुनिया में है। ऐसे में कंपनियों को ऐसे लोगों की जरूरत पड़ती है जो अंग्रेजी के अलावा कोई और भाषा जानते हैं। विदेशी भाषा सीखने वाले युवाओं की संख्या भारत में धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है। जर्मन, स्पैनिश, कोरियन, चाइनीज, जैपनीज, फ्रेंच, पर्शियन और डच लैंग्वेज दुनिया में काफी बोली जाती हैं। लेकिन पिछले कुछ समय से कोरियन, चाइनीज और जैपनीज भाषा सीखने वालों की संख्या बढ़ी है। टूरिज्म क्षेत्र में भविष्य देखने वाले छात्रों के लिए यह भाषाएं सबसे अच्छा विकल्प रहेगा। भारत में कई बड़ी यूनिवर्सिटीज विदेशी भाषा में ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट और डिप्लोमा कोर्स ऑफर कर रही हैं।

8.  कला और सामाजिक विज्ञान – पुरातत्त्व विज्ञान करियर के तौर पर पुरातत्व विज्ञान धरती के गर्भ में झांकने, बीते कल को बेहतर समझने और अपने पूर्वजों तथा मानवों के विकास को जानने का रोमांच व उत्साह देता है।

9.  स्वास्थ्य – 12वीं के बाद ही पोषण एवं आहारिकी का कोर्स आपको एक रोमांचक करियर प्रदान कर सकता है।  गृह विज्ञान अथवा होटल प्रबंधन में डिग्री आपको पोषण एवं आहारिकी का उच्च-स्तर का ज्ञान करा सकती हैं।

10.  इवेंट मैनेजमेंट – आज के समय में या तो लोगों को अपने फंक्शन्स और पार्टीज को मैनेज करने का टाइम नहीं है या वे इसे बेहतरीन और कुछ अलग बनाने के लिए एक्सपर्ट्स की मदद लेते हैं जिसके लिए वे उन्हें आकर्षित रकम अदा करते हैंl संगीत समारोह, फैशन प्रदर्शनी, कार्पोरेट सेमीनार, प्रदर्शनियों, विवाह समारोह, आदि सब जगह सफ़ल व्यवस्था और आयोजन के लिए प्रोफेशनल ऑर्गनाइजर्स की आवश्यकता होती है। इसलिए इस क्षेत्र में रोज़गार के अवसरों की कमी नहीं और ऊपर से समारोह की सफलता, समारोह का बजट और उसकी भव्यता के आधार पर ऑर्गनाइजर्स को शानदार वेतन मिलता हैl 12वीं कक्षा के बाद इवेंट मैनेजमेंट में कोई सर्टिफिकेट कोर्स या डिग्री प्रोग्राम में दाख़िला लिया जा सकता हैl  इस फिल्ड को चुनकर आप बहुत कम समय में को चुनकर आप बहुत कम समय में मुकाम तक पहुंच सकते हैं।

11.  योगा के कोर्स – स्वस्थ रहने के लोग अब योग करने को ओर ज्यादा ध्यान देने लगे हैं। योग के प्रति लोगों में जागरुकता बढ़ी है। आप योग को करियर के तौर पर चुन सकते हैं। आपको इसके लिए कोर्स के साथ प्रैक्‍टिस की भी बहुत जरूरत होगी। 12वीं के बाद छोटा सा कोर्स करके इसमें आप योग टीचर बनकर अच्छी सैलरी की जॉब कर सकते हैं।

12.  इंटीरियर डिजाइनिंग का कोर्स – आपको अगर रचनात्मक कार्य करना अच्छा लगता है तो आप इंटीरियर डिजाइनिंग का कोर्स कर सकते हैं। आपक मन डिजाइनिंग, पेंटिंग में मन लगता है तो आप इंटीरियर डिजाइनिंग में डिप्‍लोमा कर सकते हैं। डिप्‍लोमा शॉट टर्म कोर्स के रूप में आपको जल्‍द ही अच्छी कमाई का मौका दे देगा। इंटीरियर डिजाइनिंग में आप अपना काम भी शुरू कर सकते हैं।

13.  जिम इंस्‍ट्रक्‍टर का कोर्स – आप जिम इंस्‍ट्रक्‍टर का कोर्स कर सकते हैं । क्यों कि फिटनेस को लेकर लोग अब ज्यादा जागरूक होने लगे हैं। नए जिम खुल रहे हैं। जिम में इंस्‍ट्रक्‍टर एक बेहतर करियर ऑप्‍शन है। 6 से 8 महीने के कोर्स में आप किसी भी बड़े जिम में ट्रेनर इंस्‍ट्रक्‍टर बन सकते हैं या अपना जिम खोल सकते हैं।

You might also like