महाविकास आघाडी में गड़बड़, शिवसेना ने भाजपा को दिया समर्थन

0

जलगांव , पोलिसनामा ऑनलाइन – राज्य में सरकार गठन को लेकर शिवसेना और भाजपा के रिश्ते ऐसे बिगड़े की दोनों ने 30 साल पुरानी दोस्ती तोड़ ली. शिवसेना ने अलग रास्ता चुन लिया और कांग्रेस-एनसीपी के साथ मिलकर महाविकास आघाडी बना कर सरकार बना ली.

भाजपा और शिवसेना का गठबंधन टूटने से राज्य की कई मनपा में महापौर चुनाव के वक़्त शिवसेना ने भाजपा का समर्थन किया। इसी तरह से जलगांव मनपा में शिवसेना के समर्थन से भाजपा के महापौर उम्मीदवार निर्विरोध चुन लिए गए.  भाजपा की पॉलिसी के अनुसार सवा वर्ष का कार्यकाल सीमा भोले का पूरा होने के बाद उन्होंने मेयर पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद विभाग आयुक्त कार्यालय की तरफ से मेयर पद के चुनाव का कार्यकर्म घोषित किया गया. भाजपा की तरफ से भारती सोनवणे को महापौर पद का उम्मीदवार बनाया गया था. भारती सोनवणे दवारा नामांकन दाखिल किये जाने के बाद शिवसेना के समर्थन से वह निर्विरोध मेयर चुन ली गई.
उन्हें हर पार्टी का सपोर्ट मिला। उनके खिलाफ कोई नामांकन नहीं होने की वजह से सोमवार को पीठासीन अधिकारी डॉ. अविनाश ढाकने ने उनके निर्विरोध चुने जाने की घोषणा की. इस मौके पर भाजपा के सारे पदाधिकारी मौजूद थे. भारती सोनवणे को शुभकामना देने के लिए काफी भीड़ जमा हुई थी. मनपा बिल्डिंग के बाहर पटाखे छोड़ कर इस मौके का जश्न मनाया गया. वह मनपा में 15वे महापौर के रूप में चुनी गई है.
You might also like