खुशखबरी! मोबाईल नंबर पोर्ट करना एक बार फिर से होगा सस्ता, ट्राई ने मांगे सुझाव

0

–    ट्राई के ड्राफ्ट को मंजूरी मिल जाती है तो पोर्ट करने के लिए लगेगा सिर्फ 5.74 रुपए का शुल्क

–    अभी कंपनियां वसूल रही हैं 19 रुपए

पुलिसनामा ऑनलाइन – अगर आप अपना मोबाईल नेटवर्क चेंज करना चाहते हैं अर्थात बिना नंबर बदले नेटवर्क कंपनी बदलना चाहते है, तो आपको अब यह सुविधा पहले से सस्ती दरों में प्राप्त हो जाएगी. लेकिन आपको इसके लिए थोड़ा-सा और इंतजार करना पड़ सकता है, क्योंकि नंबर पोर्ट करने संबंधी नई सस्ती दरें लागू करने हेतु टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) ने एक ड्राफ्ट पेश किया है. अगर इसे मंजूरी मिल जाती है तो मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी (एमएनपी) के वर्तमान चार्ज 19 रुपए की जगह आपको सिर्फ  5.74 रुपए ही देने होंगे.

बता दें कि ट्राई ने टेलीकम्युनिकेशन मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी पर पोर्ट ट्रांजेक्शन चार्ज एंड डिपिंग चार्ज अमेंडमेंट रेगुलेशन 2019 का ड्राफ्ट जारी किया है. साथ ही उक्त ड्राफ्ट पर ट्राई ने सभी हितधारकों से 23 अगस्त तक सुझाव मांगे हैं. अगर इसे मंजूरी मिल जाती है तो 30 सितंबर से मोबाइल नंबर को एक ऑपरेटर से दूसरे ऑपरेटर पर पोर्ट या नेटवर्क चेंज कराना फिर से सस्ता हो जाएगा.

बता दें कि इससे पहले ट्राई ने 31 जनवरी 2018 को एमएनपी चार्ज 19 रुपए से घटाकर 4 रुपए लेना तय किया था. लेकिन ट्राई के इस निर्णय पर आपति जताकर टेलीकॉम ऑपरेटर्स कम्पनियां दिल्ली हाईकोर्ट पहुंच गई थी. यहाँ पर टेलीकॉम ऑपरेटर्स की जीत हुई. उसके बाद से टेलीकॉम ऑपरेटर कंपनियां एमएनपी के लिए कस्टमर से 19 रुपए  वसूल रही हैं.

क्या है एमएनपी सेवा

ट्राई द्वारा मोबाईल ग्राहकों की सुविधा के लिए मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी सेवा शुरू की है, जिसके अंतर्गत मोबाइल यूजर अपना नंबर बदले बिना ऑपरेटर बदल सकता है. इस सेवा के लिए कस्टमर को कंपनी को फीस देनी पडती है. कस्टमर को अपना मोबाइल नंबर दूसरी कंपनी के पास पोर्ट कराने के लिए अपने मोबाईल के मैसेज बॉक्स में PORT टाइप करके 1900 पर एक मैसेज भेजना पड़ता है. इस प्रक्रियां में लगभग एक सप्ताह या उससे कम समय लग लगता है.

You might also like