रिंग ट्रिंग…. ‘फर्जी कॉल’ को लेकर सरकार ने दी चेतावनी, ‘इन’ 8 बातों का रखें ध्यान

0

नई दिल्ली : ऑनलाइन टीम – कोरोना काल के दौरान साइबर क्राइम बढ़ गया है। कई लोगों की शिकायत है कि उन्हें अननोन नंबर से लगातार कॉल आ रहे है। अब इसे लेकर सरकार ने भी चेतावनी दी है। साइबरदोस्त गृहमंत्रालय द्वारा चलाया जा रहे एक ट्विटर हैंडल द्वारा साइबर सिक्योरिटी के प्रति जागरूकता फैलाने का काम किया जा रहा है। साइबर दोस्त ने लोगों से अपील की है कि वे फर्जी कॉल से सावधान रहें। इस तरह के कॉल द्वारा ऑफर का लालच देकर व्यक्तिगत जानकारियां हासिल करने की कोशिश करती हैं।

1. इन फर्जी कॉल के मोबाइल नंबर आमतौर पर +92 से शुरू होते हैं।

2. धोखाधड़ी करने वाले भी कथित तौर पर +01 से शुरू होने वाले नंबरों से भी कॉल करते हैं।

3. ये कॉल सामान्य वॉयस कॉल या व्हाट्सएप कॉल हो सकते हैं।

4. इन कॉलों का उद्देश्य किसी की व्यक्तिगत और संवेदनशील जानकारी जैसे बैंक खाता संख्या या डेबिट कार्ड विवरण प्राप्त करना होता है।

5. फर्जीवाड़ा करने वाले एक बार जिस नंबर पर कॉल करते हैं उसपर लगातार कॉल करते हैं।

6. नागरिकों को फर्जी लॉटरी या लकी ड्रा के बहाने अपना ब्योरा देने का लालच दिया जाता है।

7. जालसाज एक नकली प्राधिकरण के हस्ताक्षर के साथ मैसेज को भेज कर इसे वैध दिखाने की कोशिश करते हैं।

8. जालसाज संदेश के साथ QR कोड और बारकोड भी साझा कर सकते हैं। ऐसे क्यूआर कोड को कभी भी स्कैन न करें।

You might also like