मैं आज भी अपनी फिल्मों को सोच समझकर चुनता हूं : पंकज त्रिपाठी

0

मुंबई, पोलिसनामा ऑनलाइन – अभिनेता पंकज त्रिपाठी का मानना है कि अच्छे काम के साथ लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए जिम्मेदारियां भी आती हैं, उनका कहना है कि वह इस बात को सुनिश्चित करने का भरसक प्रयास करते हैं कि अपने काम की गुणवत्ता को लेकर उन्हें कोई समझौता न करना पड़े। पंकज ने कहा, “अच्छे काम के साथ लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरने की जिम्मेदारियां भी आती हैं। मेरे प्रति लोगों के इस प्यार को देखकर मैं वाकई में अभिभूत हूं और इसलिए मैं यह सुनिश्चित करने का और भी ज्यादा प्रयास करता हूं कि मैं गुणवत्ता के साथ कोई समझौता न करूं।”

उन्होंने आगे कहा, “मैं आज भी अपनी फिल्मों को सोच समझकर चुनता हूं, अपने अनुरूप किरदारों का चुनाव करता हूं। इस साल मैं जिस तरह की फिल्में कर रहा हूं उनसे मैं काफी खुश हूं। हर एक फिल्म ने मुझे संतुष्टि और खुशी दी है। मैं उम्मीद करता हूं कि इस तरह के बेहतरीन काम करना मैं जारी रखूंगा। सफलता के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि यह आपको और अधिक मेहनत करने के लिए प्रेरित करती है।”

साल 2020 में पंकज एक के बाद एक कई फिल्मों पर काम कर रहे हैं।

वह ‘कागज’ में नजर आएंगे, गुंजन सक्सेना की आगामी बायोपिक ‘द कारगिल गर्ल’ में के साथ ही वह ‘मिमि’, ‘लूडो’ और ’83’ में भी हैं। वह बहुचर्चित शो ‘मिर्जापुर’ के दूसरे सीजन के साथ भी वापसी करने वाले हैं जिसमें वह कालीन भईया के अपने किरदार को दोहराएंगे। इतना ही नहीं, पंकज की झोली में अंतर्राष्ट्रीय परियोजना ‘ढाका’ भी है जिसमें वह क्रिस हेम्सवर्थ के साथ काम करते दिखेंगे।

You might also like