विदेशों से पुणे पहुंचे 202 यात्री संस्थात्मक क्वारंटाइन

0

दिनभर में मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, तमिलनाडु, राजस्थान के लिए 10 ट्रेनें रवाना

पुणे। संवाददाता लॉकडाउन के चलते विदेशों में फंसे भारतीयों को ‘वंदे मातरम’ मुहिम के तहत देश में लाने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। सोमवार तक विदेशों से कुल 202 यात्री पुणे पहुंचे हैं। इन सभी यात्रियों को संस्थात्मक क्वारंटाइन किया गया है। इसके अलावा प्रवासी मजदूरों को उनके गांव- घर भेजने की प्रक्रिया के तहत मंगलवार को दिनभर में 11 हजार 329 यात्रियों के लिए पुणे से मध्यप्रदेश के लिए 5, उत्तर प्रदेश के लिए 2, उत्तराखंड, तमिलनाडु और राजस्थान के लिए 1-1 कुल 10 ट्रेनें रवाना की गई हैं। इसके अलावा रात में सातारा से मध्यप्रदेश रेवा और कोल्हापुर से राजस्थान नागौर के 1460 यात्रियों के लिए ट्रेनें रवाना की गई।

बढ़ते संक्रमण के चलते पुणे संभाग (पुणे, सातारा, सोलापुर, कोल्हापुर, सांगली जिला) में मंगलवार तक कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 3632 तक पहुंच गया।इनमें से 1359 मरीज कोरोना मुक्त होकर अस्पताल से घर लौट गए हैं। अब तक 187 मरीजों की मौत हुई है। फिलहाल संभाग में 1986 में 128 मरीजों की हालत गंभीर बताई जा रही है। पूरे पश्चिम महाराष्ट्र में अब तक 96 लाख 11 हजार 214 घरों का सर्वेक्षण का काम पूरा हो चुका है जिसमें 4 करोड़ 15 लाख 86 हजार 99 लोगों की जांच की गई। इसमें संदिग्ध पाए गए 2327 लोगों को व्यापक जांच के लिए संदर्भित किया गया है। पूरे पुणे संभाग में अब तक 36 हजार 218 मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं जिनमें से 30 हजार मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव मिली है। अभी 2626 मरीजों की रिपोर्ट मिलनी बाकी है। वहीं कुल 3532 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है।

पूरे पश्चिम महाराष्ट्र में पुणे जिले की हालत गंभीर है जहां कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 3080 तक पहुंच गया है। जिले में मंगलवार तक कुल 1240 संक्रमितों को इलाज के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज दे दिया गया। कोरोना मुक्त मरीजों के इस आंकड़े से जहां राहत मिली है वहीं जिले में संक्रमितों के बढ़ते आंकड़ों से चिंता कायम है। इनमें से 165 मरीजों की मौत हो गई है। फिलहाल जिले में 1675 पॉजिटिव मरीजों का इलाज चल रहा है जिनमें से 119 मरीजों की हालत गंभीर बताई जा रही है। पुणे के संभागीय आयुक्त डॉ दीपक म्हैसेकर द्वारा जारी किए गए बयान के मुताबिक, पुणे संभाग के सातारा जिले में अब तक 121 कोरोना ग्रस्त मरीज मिले हैं जिनमें से 35 को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है जबकि दो की मौत हो चुकी है। फिलहाल 84 पॉजिटिव मरीजों का इलाज जारी है। सोलापुर जिले में 275 बाधितों में से 18 मरीजों की मौत हुई है। अब तक 47 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है और 210 मरीज़ों का इलाज जारी है। सांगली में अब तक मिले 38 पॉजिटिव मरीज में 28 मरीज कोरोना मुक्त हुए हैं जिसमें से एक मौत हुई है और फिलहाल 9 मरीजों का इलाज चल रहा है। कोल्हापुर में अब तक कोरोना के 18 बाधित मरीज मिले हैं, यहां भी एक मौत दर्ज है। यहां भी 9 मरीजों को अस्पताल से डिस्चार्ज दे दिया गया है और फिलहाल 8 पॉजिटिव मरीजों का इलाज जारी है।

You might also like