हेमंत करकरे के खिलाफ दिए गए साध्वी प्रज्ञा के बयान पर IPS एसोसिएशन ने जताई आपत्ति

0

मुंबई : समाचार ऑनलाइन – मालेगांव बम धमाके की आरोपी और भोपाल से बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने 26/11 मुंबई आतंकी हमले में शहीद हुए मुंबई एटीएस चीफ हेमंत करकरे पर अपमानजनक टिप्पणी की है। जिसके बाद आईपीएस एसोसिएशन साध्वी प्रज्ञा पर भड़क गई। अब आईपीएस एसोसिएशन ने भी साध्वी के बयान पर आपत्ति जताई है। दरअसल साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि उन्हें (हेमंत करकरे) उनके कर्मों की सजा मिली है, क्योंकि उन्होंने मुझे गलत तरीके से फंसाया था। साध्वी ने कहा है कि मैंने उसे कहा था तेरा सर्वनाश होगा, उसने मुझे गालियां दी थीं। जिस दिन मैं गई तो उसके यहां सूतक लगा था और जब उसे आतंकियों ने मारा तो सूतक खत्म हुआ”।

साध्‍वी प्रज्ञा द्वारा दिए गए बयान की हर तरफ आलोचना हो रही है। इस पर विपक्ष ने भी हमला बोल दिया है। इसके साथ ही अब आईपीएस एसोसिएशन ने भी साध्वी के बयान पर आपत्ति जताई है। आईपीएस एसोसिएशन ने अपने आधिकारिक ट्विटर पर इसको लेकर ट्वीट भी किया।

आईपीएस एसोसिएशन का ट्वीट –
अशोक चक्र से सम्मानित आईपीएस श्री हेमंत करकरे ने आतंकवादियों से लड़ते हुए सर्वोच्च बलिदान दिया। हम वर्दी वाले एक उम्मीदवार द्वारा दिए गए अपमानजनक बयान की निंदा करते हैं और मांग करते हैं कि हमारे सभी शहीदों के बलिदान का सम्मान किया जाए।

बता दें कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को भारतीय जनता पार्टी ने भोपाल से मैदान में उतारा है। यहां उनका मुकाबला कांग्रेस नेता दिग्‍व‍िजय सिंह से है। वहीं विरोधी दल के नेता और मालेगांव ब्लास्ट के पीड़ित परिवार साध्वी की उम्मीदवारी रद्द किए जाने की अपील कर रहे हैं। बता दें कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर साल 2008 के मालेगांव ब्लास्ट केस की मुख्य आरोपी रही हैं। वह इस केस में 9 सालों तक जेल में भी रही हैं।

 

 

You might also like