सिर्फ 30 रु. की रिश्वत के लिए डॉक्टर ने नौकरी और इज्जत दोनों को दांव पर लगाया

भ्रष्टाचार निरोधक विभाग ने डॉक्टर को रंगेहाथों दबोचा  

0

सांगली : पुलिसनामा ऑनलाईन – कुरलप में रिश्वतखोरी का बेहद ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहाँ एक डॉक्टर ने सिर्फ 30 रुपए के पीछे अपनी नौकरी और इज्जत दोनों को दांव पर लगा दिया है. कुरलप में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में एक मरीज से मात्र 30 रुपये की रिश्वत लेने के आरोप में डॉक्टर को रंगे हाथों पकड़ लिया गया है. नितिन बापू चिवटे (उम्र 46, इस्लामपुर) रिश्वत लेने वाले डॉक्टर का नाम है. भ्रष्टाचार निरोधक विभाग की टीम ने शुक्रवार को कार्रवाई की है. इसके बाद डॉक्टर के खिलाफ कुरलप पुलिस स्टेशन में केस दायर कर लिया गया है.

हालाँकि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में मुफ्त इलाज किया जाता है, लेकिन खुर्द निवासी एक मरीज से आरोपी डॉक्टर ने इलाज के लिए पैसे की मांग की थी. इसके बाद कथित रोगी द्वारा सांगली के भ्रष्टाचार निरोधक विभाग को शिकायत की गई थी. इसके बाद विभाग ने शुक्रवार को कार्रवाई की, जिसके दौरान मरीज से 30 रुपये लेते हुए डॉक्टर को रंगे हाथों दबोच लिया.

पुणे के भ्रष्टाचार निरोधक विभाग के पुलिस उपायुक्त राजेश बनसोडे के मार्गदर्शन में पुलिस उपअधीक्षक राजेंद्र सालुंखे, पुलिस निरीक्षक गुरुदत्त मोरे, जितेंद्र काले, संजय कलगुटगी, संजय सपकाल, अविनाश सागर और सारिका सालुंके द्वारा यह छापामार कार्रवाई की गई है.

You might also like