Lalit Patil Drug Case | ललित पाटिल मामले में ससून हॉस्पिटल के निलंबित डॉ. प्रवीण देवकाते गिरफ्तार

0

पुणे : पुलिसनामा ऑनलाइन – ड्रग्ज माफिया ललित पाटिल मामले में ससून हॉस्पिटल के चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण देवकाते को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है. ललित को उपचार के लिए दाखिल करने की शिफारस करने के मामले में येरवडा जेल के डॉ. संजय मरसाले को क्राइम ब्रांच ने सोमवार को गिरफ्तार किया था. इसके बाद ससून हॉस्पिटल के डॉ. देवकाते को गिरफ्तार किए जाने से खलबली मच गई है. देवकाते के ससून में उपचार के लिए भर्ती हुए ललित की मदद करने का खुलासा हुआ है.

इस मामले में ससून हॉस्पिटल के चिकित्सा अधिकारी डॉ. प्रवीण दादासाहेब देवकाते (उम्र ४०) के खिलाफ बंडगार्डन पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया है. डॉ. देवकाते को सोमवार की देर रात गिरफ्तार किया गया. चाकण में मेफेड्रोन रखने के मामले में ललित पाटिल को गिरफ्तार किया गया था.

इस मामले में वह येरवडा जेल में बंद था. बीमार होने का बहना बनाकर ललित ससून हॉस्पिटल में भर्ती हुआ था. ललित जब ससून में उपचार करा रहा था तभी ललित पाटिल के ससून हॉस्पिटल से मेफेड्रोन की बिक्री किए जाने की जानकारी मिलने पर क्राइम ब्रांच ने २९ सितंबर को ससून परिसर में कार्रवाई कर ललित के दो साथियों को पकड़ा था. उनसे दो करोड़ रुपए का मेफेड्रोन जब्त किया गया था. इस कार्रवाई से ललित पाटिल का कारनामा सामने आने के बाद राज्यभर में खलबली मच गई थी.

ललित पाटिल के ससून हॉस्पिटल से फरार होने के बाद इसकी राज्यभर में चर्चा हुई. इसलिए सरकार ने जांच समिति गठित की. समिति की शिफारस के अनुसार डॉ. प्रवीण देवकाते को निलंबित कर दिया गया जबकि ससून के डीन डॉ. संजीव ठाकुर को उनके पद से हटा दिया गया.

ससून के कर्मचारी महेंद्र शेवते, येरवडा जेल के काउंसलर सुधाकर इंगले को गिरफ्तार कर लिया गया. जांच में डॉ. मरसाले को ललित को ससून हॉस्पिटल में उपचार के लिए भर्ती करने का पत्र देने की जानकारी सामने आई है. डॉ. मरसाले के ललित से पैसे लेने का खुलासा होने के बाद उसे सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया. इसके बाद अब डॉ. प्रवीण देवकाते को गिरफ्तार किया गया है.

You might also like
Leave a comment