युवा किसानो को मोदी सरकार का बड़ा तोहफा ! बिज़नेस के लिए सरकार देगी 3. 75 लाख रुपए, इस तरह उठाये फायदा 

0

नई दिल्ली, पोलिसनामा ऑनलाइन – मोदी सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों के युवाओ को रोजगार देने के लिए बड़ा कदम उठाया है. केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने मृदा हेल्थ कार्ड योजना तैयार किया है. इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र के युवा किसान जिनकी उम्र 18 से 40 वर्ष है वे ग्रामीण  स्तर पर मृदा परिक्षण प्रयोगशाला की स्थापना  कर सकते है. प्रयोगशाला स्थापित करने के लिए उन्हें 5 लाख रुपए खर्च करने होंगे जिसमे सरकार 75% यानी 3. 75 लाख रुपए देगी।

क्या है मृदा हेल्थ कार्ड योजना

 

इस योजना के तहत स्वंसहायता ग्रुप, कृष्णा सहकारी समिति, कृषक गट या कृषक उत्पादक संगठन को प्रयोगशाला स्थापित करने का लाभ मिलेगा। सरकार दवारा मिटटी का नमूना लेने, परिक्षण करने और साइल हेल्थ कार्ड उपलब्ध करके देने के लिए 300 प्रति नमूना प्रदान करेगी। लैब बनाने के लिए आम युवा या अन्य संगठनों के उप संचालक, संयुक्त संचालक अपने कार्यालय में प्रस्ताव दे सकते है.

ऐसे करे शुरुआत

 

मिटटी का नमूना का प्रयोगशाला को दो तरह से शुरू किया जा सकता है. प्रयोगशाल एक दुकान किराये पर लेकर शुरू किया जा सकता है. दूसरे तरीके में घूमता हुआ प्रयोगशाला होगा जिसे कही भी लेकर जा सकते है।  इसे मोबाइल साइल टेस्टिंग वैन कहा जाता है।

You might also like