‘वेस्ट’ सिटी को पुनः ‘बेस्ट’ बनाने सड़कों पर उतरे पार्थ

0
पिंपरी : पुलिसनामा ऑनलाईन – हालिया पूर्व उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने पिंपरी चिंचवड़ शहर में कचरे की भीषण समस्या पर तंज कसा था कि, जिस शहर को हमनें अपने शासनकाल में ‘बेस्ट सिटी’ बनाया था उसे भाजपा ने अपने तीन साल के कार्यकाल में ही ‘वेस्ट सिटी’ बनाकर रख दिया। उनकी इस टिप्पणी के बाद उनके पुत्र पार्थ पवार, जिन्हें हालिया संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में मावल चुनाव क्षेत्र से करारी शिकस्त मिली, शहर को पुनः ‘बेस्ट सिटी’ बनाने के लिए सड़कों पर उतर आए हैं। पिंपरी की सब्जी मंडी में स्वच्छता अभियान चलाकर मनपा आयुक्त से मिलकर शहर में कचरा निपटारे की समस्या को जल्द से जल्द दूर करने की मांग भी उन्होंने की।
गत सप्ताह जब अजीत पवार शहर में पधारे थे तब उनसे पार्थ के बारे में भी मीडियाकर्मियों ने सवाल पूछा था। इसके तुरंत बाद पार्थ हरकत में आ गए और राष्ट्रवादी कांग्रेस के शासनकाल में बेस्ट सिटी के तौर नवाजी गई और अब भाजपा के शासनकाल में वेस्ट सिटी बनकर रह गए पिंपरी चिंचवड़ को पुनः बेस्ट सिटी बनाने के लिए कमर कस ली है। उन्होंने हर रविवार को शहर में स्वच्छता अभियान चलाने का फैसला किया है। इसकी शुरुआत उन्होंने अपने पिता अजीत पवार के जन्मदिन से की। बीते दिन पिंपरी की सब्जी मंडी में यह अभियान चलाया गया। माना जा रहा है कि इस अभियान के जरिये पार्थ लोकसभा चुनाव की हार से विचलित नहीं है और पिंपरी चिंचवड़ में वे सक्रिय हैं।
स्वच्छता अभियान के बाद पार्थ पवार ने राष्ट्रवादी कांग्रेस के स्थानीय नेताओं के साथ पिंपरी चिंचवड़ मनपा आयुक्त श्रावण हर्डीकर से मुलाकात की। उनके साथ हुई चर्चा में उन्होंने यह दुर्भाग्यपूर्ण बताया कि कभी पूरे देशभर के शहरों में बेस्ट सिटी के तौर पर सम्मानित शहर आज स्वच्छता की रैंकिंग में 52वें पायदान पर पहुंच गया है। 15 दिनों में शहर को कचरे की समस्या और दुर्गंधि के जंजाल से मुक्त बनाने के साथ ही उन्होंने कचरा संकलन के वाहनों की ऊंचाई की ओर मनपा आयुक्त का ध्यानाकर्षित किया। उन्होंने कहा कि ऊंचाई ज्यादा होने से महिलाओं को उन वाहनों में कचरा फेंकने में दिक्कतें आती हैं। उन्होंने कचरा संकलन के वाहनों की ऊंचाई कम करने की सूचना भी दी।
You might also like