Pune ACB – FIR On Tukaram Supe | टीईटी परीक्षा घोटाला मामले में आरोपी व तत्कालीन शिक्षणाधिकारी तुकाराम सुपेवर पर पुणे एंटी क्रप्शन ब्यूरो में केस दर्ज, जाने क्या है मामला

0

3 करोड़ 59 लाख 99 हजार 590 रुपए की प्रॉपर्टी सुपे ने भ्रष्ट रास्ते से जमा करने की जानकारी सामने आई

पुणे: टीईटी परीक्षा घोटाला मामले में आरोपी व तत्कालीन शिक्षणाधिकारी तुकाराम नामदेव सुपे (उम्र-59, नि.कल्पतरू, गांगर्डेर नगर,सुदर्शन हॉस्पिटल के पास, पिंपले गुरव, पुणे) के पास बड़े पैमाने पर प्रॉपर्टी मिली है. उनके द्वारा यह प्रॉपर्टी अपने सरकारी पद का दुरुपयोग कर हासिल करने की बात सामने आई है. इसलिए पुणे एंटी क्रप्शन ब्यूरो ने तुकाराम सुपे के खिलाफ भ्रष्टाचार प्रतिबंधक कानून के तहत केस दर्ज किया है.

इस मामले में पुणे एंटी क्रप्शन ब्यूरो के पुलिस निरीक्षक श्रीराम विष्णु शिंदे ने सांगवी पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है. इसके अनुसार तुकाराम नामदेव सुपे पर भ्रष्टाचार प्रतिबंध अधिनियम, सन 1988 की धारा 13 (1)(ई), 13(2), भ्रष्टाचार प्रतिबंध संशोधित कानून 2018 की धारा 13(1)( ब) व 13 (2) के तहत बुधवार 6 दिसंबर को केस दर्ज किया गया है.

तत्कालीन शिक्षणाधिकारी तुकाराम सुपे के खिलाफ साईबर पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 406, 409,
420, 467 के तहत केस दर्ज किया गया है. इस मामले में जब्त किए गए 2 करोड़ 87 लाख 99 हजार 590 रुपए कैश व 72 लाख का 145 तोला सोना सहित 3 करोड़ 59 लाख 99 हजार 590 रुपए की प्रॉपर्टी सुपे ने भ्रष्ट रास्ते से जमा करने की बात सामने आई है.

सुपे ने 1986 से 25 दिसंबर 2021 के दौरान अपने सरकारी पद का दुरुपयोग कर यह प्रॉपर्टी हासिल की है. तुकाराम सुपे ने सर्विस की अवधि में वैध इनकम से अधिक संपति जमा करने की जानकारी जांच में सामने आई है. इसलिए उनके खिलाफ एसीबी में केस दर्ज किया गया है.

यह कार्रवाई पुणे परिक्षेत्र के पुलिस अधीक्षक अमोल तांबे, अपर पुलिस अधीक्षक शीतल जानवे के मार्गदर्शन में पुणे एंटी क्रप्शन ब्यूरो की टीम ने की है. मामले की जांच पुलिस उपअधीक्षक माधुरी भोसले कर रही है.

You might also like
Leave a comment