Pune PMC 24×7 Water Supply Project | उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों बाणेर-बालेवाडी 24×7 वाटर सप्लाई योजना का लोकार्पण

0

पुणे : पुलिसनामा ऑनलाइन – Pune PMC 24×7 Water Supply Project | उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों पुणे महानगरपालिका की तरफ शहर के लिए किए गए सुस-म्हालुंगे वाटर सप्‍लाई योजना का भूमिपूजन और २४x७ समान वाटर सप्‍लाई योजना के तहत वारजे जलशुद्धिकरण केंद्र से बाणेर-बालेवाडी के मुख्य दाब पाइपलाइन व पानी के टंकी का लोकार्पण किया गया. पुणे शहर के सुनियोजित और गतिशील विकास पर जोर देने का भरोसा इस मौके पर फडणवीस ने दिया.(Pune PMC 24×7 Water Supply Project)

बालेवाडी में आयोजित इस कार्यक्रम के अध्यक्ष उच्च व तकनीकी शिक्षा मंत्री तथा जिले के पालकमंत्री चंद्रकांत पाटिल थे. इस मौके पर विधान परिषद उपसभापति डॉ. नीलम गोऱ्हे (वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए), विधायक भीमराव तापकीर, विधायक माधुरी मिसाल, विधायक सुनील कांबले, विधायक सिद्धार्थ शिरोले, पूर्व विधायक जगदीश मुलीक, योगेश टिलेकर, पुणे महानगरपालिका आयुक्त विक्रम कुमार, अतिरिक्त आयुक्त कुणाल खेमनार, विकास ढाकणे आदि उपस्थित थे.

उपमुख्यमंत्री फडणवीस ने कहा कि, पुणे केवळ ऐतिहासिक शहर नहीं है बल्‍कि भविष्य का शहर है. दुनिया के नक्शे पर २१वीं सदी के ‘नॉलेज सिटी’ के तौर का पुणे शहर है, यह ज्ञान नगरी है. पुणे शहर विज्ञान आणि नवीनता की राजधानी है. पुणे जिला महाराष्ट्र का ‘मैन्युफैक्चरिंग हब भी है. देश का २० फीसदी उत्पादन महाराष्ट्र करता है, इसमें पुणे का महत्‍वपूर्ण योगदान है. यहां की बढ़ती आबादी को देखते हुए रहने लायक वातावरण का निर्माण करना, शिक्षा, स्‍वास्‍थ्‍य, अच्‍छी पर्यावरणीय उपलब्धता देने की जरूरत है और इस दृष्टि से प्रयास किया जा रहा है.(Pune PMC 24×7 Water Supply Project)

भविष्य का विचार कर पानी का प्रबंधन

पुणे में पर्याप्‍त मात्रा में पानी होने के बावजूद वितरण सिस्‍टम के दोष के कारण २५-३० फीसदी पुणे के प्‍यासा होने का विरोधाभास दिखता था. इसलिए नागपुर की तर्ज पर २४x७ समान वाटर सप्‍लाई योजना बाणेर-बालेवाडी भाग में पहली बार शुरू किया जा रहा है. सुस-म्हालुंगे तेजी से बढ रहा भाग है. भविष्य में भाग बडे पैमाने पर विकसित होगा. यहां सुनियोजित विकास होने पर पीने के पानी की सुविधा करना महत्‍वपूर्ण है. इसलिए भविष्य में बढ़ने वाली आबादी पर विचार कर पानी की व्‍यवस्‍था की जा रही है.

 

शहर में बेहतर ट्रैफिेक सुविधा पर जोर

कोरेगांव रेलवे फ्लाईओवर और सनसिटी से कर्वेनगर के फ्लाईओवर की वजह से शहर के ट्रैफिक जाम को कम करने में मदद मिलेगी.
ट्रैफिक प्रबंधन के लिए ऐसी सुविधाओं की जरूरत है. ५ हजार विद्यार्थियों को मुठा नदी पर बनने वाले पुल का फायदा होगा.
पुणे के रिंगरोड का काम शुरू किया जाएगा. इस पर २७ हजार करोड खर्च अपेक्षित है. यह पुणे की अर्थव्यवस्था की जान है,
पुणे में रोजगार और उद्योगों का गढ़ है. पुणे में मेट्रो का जाल तेजी से फैल रहा है,
अगले चरण में जल्‍द शुरू किया जाएगा. उपनगरों को मुख्य शहर से जोड़ने पर पुणे की ट्रैफिक सामान्‍य होने के साथ मेट्रो लाभदायक साबित होगा.
चांदणी चौक के हाईवे के काम के कारण ट्रैफिक को सामान्‍य करने में मदद मिल रही है.
देश की सर्वाधिक इलेक्ट्रिक बस पुणे शहर में है.
भविष्य में एकात्मिक ट्रैफिक सिस्‍टम के जरिए आम लोगों को अच्‍छी सुविधा देने का काम किया जाएगा.

 

पर्यावरण आणि गतिशील विकास में समन्वय

पुणे शहर के विकास के लिए १५ स्मार्ट सिटी का प्रोजेक्‍ट पूरा हो चुका है. कचरा के पुन: इस्‍तेमाल का प्रयोग पुणे में शुरू किया जा रहा है. पानी का पुन: इस्‍तेमाल उतना ही महत्‍वपूर्ण है. ऐसे में शुद्ध पानी पीने के लिए और सिंचाई के लिए इस्‍तेमाल किया जाएगा. मुला-मुठा शुद्धिकरण के लिए 1 हजार 900 करोड़ की योजना शुरू की गई है. ऐसे में नदी को निर्मल करने में मदद मिलेगी. पर्यावरण और गतिशील विकास में समन्वय कर पुणेकरों के जीवन स्‍तर में सुधार करने का प्रयास किया जाएगा.

पालकमंत्री पाटिल ने कहा कि, बाणेर-बालेवाडी वाटर सप्‍लाई योजना शहर के लिए महत्वाकांक्षी प्रोजेक्‍ट है. शहर में अधिक इस्‍तेमाल होने के कारण आखिरी व्‍यक्‍ति तक पानी नहीं जाने के कारण 24×7 समान वाटर सप्‍लाई योजना के तहत 85 फीसदी बांध की योजना बनाई गई है. इनमें से 60 फीसदी काम पूरा हो चुका है. योजना के पूरा होने पर बर्बाद होने वाला ४ टीएमसी पानी को उपयोग में लाया जाएगा. इसके साथ ही २ हजार करोड के जायका प्रोजेक्‍ट के जरिए १८ एसटीपी प्‍लांट तैयार कर प्रक्रिया किया हुए पानी अन्‍य काम के लिए उपयोग में लाया जाएगा. इसके अलावा उद्योगों के लिए इस पानी का इस्‍तेमाल होने से यहां उपयोग होने वाले शुद्ध पानी नागरिकों के लिए उपलब्ध होगा. ऐसे महत्‍वपूर्ण प्रोजेक्‍ट मुख्यमंत्री रहते हुए शहर के लिए देने पर उन्‍होंने उपमुख्यमंत्री फडणवीस को धन्यवाद दिया.

 

विधान परिषद की उपसभापति डॉ.गोऱ्हे ने कहा, गर्मी में महिलाओं को पानी की किल्‍लत महसूस होती है. अन्‍य शहरों के नागरिक भी पुणे आते है. पुणे में अच्‍छा पर्यावरण और पानी है. शाश्वत विकास के मकसद को सामने रखकर शहर में काम हो रहा है. साधू वासवानी पूल के काम के कारण ट्रैफिक की समस्या खत्‍म होगी. लंबे समय से पेंडिंग प्रोजेक्‍ट को बढावा मिलने पर उन्‍होंने संतोष व्‍यक्‍त किया. पुणे के पर्यावरण संबंधी समस्या को लेकर सामाजिक संगठनों के साथ बैठक करने की उन्‍होंने उम्‍मीद जताई.

आयुक्त विक्रम कुमार ने अपनी प्रस्‍तावना में महानगरपालिका की तरफ से किए जा रहे विभिन्‍न प्रोजेक्‍ट की जानकारी दी. उन्‍होंने कहा, पुणे की बढती आबादी पर विचार कर नागरिकों को महानगरपालिका की तरफ से सुख सुविधाएं दी जा रही है. भूमि पूजन किए गए प्रोजेक्‍ट का काम जल्‍द से जल्‍द पूरा किया जाएगा.

पूर्व नगरसेवक अमोल बालवडकर ने भी इस मौके पर अपने विचार व्‍यक्‍त किए.
‘मेरा लाईफ मेरा स्वच्छ शहर ‘ यह राष्ट्रीय अभियान १५ मई से ५ जून के दौरान चलाया जा रहा है.
इसके तहत शहर में नागरिकों की सहभागिता से विकेंद्रित थ्री आर (रिङ्युस-रियूज- रिसाइकल) केंद्र बनाया जाएगा.
इस अभियान का शुभारंभ उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के हाथों किया गया.
साथ ही प्लास्टिक बोतलों के संकलन स्‍पर्धा में संकलित किए गए प्लास्टिक
बोतलों से बनाए गए टी-शर्ट का अनावरण किया गया.

 

बाणेर-बालेवाडी वाटर सप्‍लाई योजना

समान वाटर सप्‍लाई योजना के तहत बाणेर-वाटर सप्‍लाई योजना के तहत पानी की तीन टंकी बनाई गई है.
वारजे जलशुद्धिकरण केंद्र से बालेवाडी तक ५ किलोमीटर पानी की पाइपलाइन डालने का काम पूरा हो चुका है.
इस वाटर सप्‍लाई योजना के कारण बाणेर बालेवाडी भाग के नागरिकों के पानी की मांग पूरी होगी.

 

सुस व म्हाळुंगे गांव में वाटर सप्‍लाई योजना

पुणे महानगरपालिका में नये शामिल हुए सुस व म्हालुंगे गांव के लिए समान वाटर सप्‍लार्इ योजना
के तहत पानी की पाइपलाइन
डालने व पानी की टंकी बनाने के काम का भूमि पूजन उपमुख्यमंत्री फडणवीस
के हाथों वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए की गई.
अगले ३० वर्ष में बढने वाली आबादी को ध्‍यान में रखकर सुस गांव में २ व म्हालुंगे गांव में ४ पानी की टंकी
बनाने का काम ६५ किलोमीटर लंबी पानी पाइप लाइन
की योजना है. इन कामों पर करीब ७४ करोड का खर्च अपेक्षित है.
वारजे जलशुद्धिकरण केंद्र से चांदणी चौक से बालेवाडी तक पानी पाइपलाइन डालने का काम पूरा हो चुका है.

 

मुठा नदी पर बनने वाले पूल के काम का भूमिपूजन

मुठा नदी पर सनसिटी सिंहगढ रोड से दुधाने लॉन कर्वेनगर तक सिक्‍स लेन की पूल बनाने के काम का
भूमि पूजन उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस
के हाथों किया गया.
यह पूल ३४५ मीटर लंबी और ३० मीटर चौडी होगी. इस पूल के कारण सिंहगढ रोड से कर्वेनगर, डेक्कन,
कोथरूड भाग में जाना आसान होगा.
इन भागों का ट्रैफिक जाम कम होने के साथ कमी अन्‍य रोड के ट्रैफिक दबाव को कम करने में मदद मिलेगी.

 

 

कोरेगांव के रेलवे फलाईओवर का भूमिपूजन

कोरेगांव के साधू वासवानी रेलवे फलाईओवर को तोडकर नया बनाया जाएगा.
इस काम का भी भूमि पूजन उपमुख्यमंत्री के हाथों किया गया.
पूल के काम के लिए ८३ करोड रुपए का प्रावधान किया गया है.
पूल की लंबाई ६४० मीटर है. बंडगार्डन से कैंप भाग में जाने के लिए फोर लेन का मार्ग उपलब्‍ध होगा.
इससे कोरेगांव पार्क व येरवडा भाग के ट्रैफिक जाम को खत्‍म करने में मदद मिलेगी.

 

Web Title :  Pune PMC 24×7 Water Supply Project | Baner-Balewadi 24×7 Water Supply Scheme
inaugurated by Deputy Chief Minister Devendra Fadnavis

Devendra Fadnavis | पेंडिंग मनपा चुनाव अक्टूबर, नवंबर में हो सकता है, देवेंद्र फडणवीस ने दिए संकेत

You might also like
Leave a comment