RBI का फैसला… अब सोने पर ज्यादा मिलेगा लोन

0

नई दिल्ली. ऑनलाइन टीम – रिजर्व बैंक ने गोल्ड लोन को और आकर्षक बनाया है। पहले सोना के कुल मूल्य के मुकाबले 75 फीसदी राशि का लोन मिलता था। अब इसे 90 फीसदी तक बढ़ाया गया है। यह सुविधा 31 मार्च 2021 तक ही है। दरअसल, पर्सनल लोन के मुकाबले गोल्ड लोन में ब्याज दर कम होती है, इसलिए लोग ज्यादा तरजीह दे रहे हैं। कोरोना संकट में लोगों ने गोल्ड लोन का भरपूर इस्तेमाल किया है। गोल्ड की बढ़ती कीमत भी इस मार्केट के लिए वरदान साबित हुई है, क्योंकि लोग इसके चलते अधिक राशि के लोन के लिए आवेदन कर पा रहे हैं।

झुकाव के 3 बड़े कारण-
1. पर्सनल लोन के मुकाबले गोल्ड लोन फटाफट मिल जाता है। मौजूदा समय में पर्सनल लोन आपके जॉब प्रोफाइल और क्रेडिट स्कोर के आधार पर 10-15% के बीच ब्याज दरों पर उपलब्ध है, लेकिन 8-12% के बीच ब्याज दर पर गोल्ड लोन लिया जा सकता है। ब्याज दरें हर बैंक में अलग-अलग हैं, इसलिए लोन लेने से पहले ब्याज के बारे में ठीक से पता कर लेना चाहिए।

2. लेंडर्स के लिए गोल्ड आमदनी और कमाई बढ़ाने के लिए सबसे सुरक्षित असेट है। यहां तक कि अगर आय घटने से बॉरोअर्स की रिस्क प्रोफाइल बिगड़ती है तो भी इसका लेंडर्स पर कोई खास असर नहीं पड़ता। वहीं बॉरोअर्स के लिए यह अपनी छोटी अवधि की जरूरतों को पूरा करने का सबसे आसान विकल्प है।

3. गोल्ड लोन के मामले में आपको आसान रीपेमेंट विकल्प मिलते हैं। आप या तो ईएमआई विकल्प चुन सकते हैं या गोल्ड लोन के मामले में बुलेट रीपेमेंट का विकल्प चुन सकते हैं। गोल्ड लोन के मामले में आंशिक रीपेमेंट भी उपलब्ध है, लेकिन पर्सनल लोन के मामले में एकमात्र रीपेमेंट विकल्प ईएमआई के माध्यम से है।

You might also like