भाजपा में बदलाव की उम्मीद अभी नहीं, इंतजार लंबा भी हो सकता है

0

नई दिल्ली. ऑनलाइन टीम – भारतीय जनता पार्टी में नई जिम्मेदारी और नए पद की उम्मीद लगाए नेताओं का इंतजार लंबा हो सकता है। पार्टी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा को कमान संभाले छह माह से ज्यादा हो गए हैं, लेकिन अभी नई टीम घोषित नहीं हुई है। पार्टी में इस तरह की चर्चाएं थी कि सरकार और संगठन में एक साथ बदलाव होंगे और कुछ नेताओं को सरकार और कुछ को संगठन में जगह मिल सकती है, लेकिन अब संगठन की टीम की घोषणा भी आगे बढ़ने की आशंका व्यक्त की जा रही है।

दरअसल, इसके पीछे कारण यह है कि पितृपक्ष को शुभ नहीं माना जाता है। उस समय कोई नया फैसला नहीं होता है। पूर्व में भाजपा ने पितृपक्ष के दौरान जो फैसले किए थे, वे उसे उलटे पड़ गए थे। कोई भी नेता इस समय नई जिम्मेदारी लेना नहीं चाहता है। पितृपक्ष के बाद अधिक मास (मलमास) है, जिसे नए कामकाज के लिए शुभ नहीं माना जाता है।

वैसे भी संसद सत्र के बाद बिहार विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू हो जाएगी और पार्टी के अधिकांश नेता उसमें जुट जाएंगे। ऐसे में किसी बड़ी घोषणा की संभावना नहीं है। संसद का मानसून सत्र 14 सितंबर से शुरू हो रहा है। इसके पहले सरकार में भी किसी तरह का फेरबदल नहीं होना है।

You might also like