कल थाईलैंड से भारत लाया जाएगा प्रज्ञा पालीवाल का शव, बाइक हादसे में गई जान

0

छतरपुर (मध्‍य प्रदेश): पुलिसनामा ऑनलाइन – थाईलैंड के फुकेट शहर में सड़क दुर्घटना में जान गंवाने वाली सॉफ्टवेयर इंजीनियर प्रज्ञा पालीवाल (29) का पार्थिव शरीर कल भारत लाया जाएगा. प्रज्ञा मध्य प्रदेश के छतरपुर शहर की रहने वाली थी. राज्य सरकार के प्रयासों के बाद अब प्रज्ञा का शव भारत लाया जा रहा है. राज्य सरकार ने इस मामले में भारत सरकार से हस्तक्षेप की मांग की थी, उसके बाद भारतीय दूतावास ने मामले की गंभीरता को देखते हुए, थाईलैंड सरकार से संपर्क किया.

मिली जानकारी के अनुसार प्रज्ञा का शव हवाई मार्ग से कल दिल्ली लाया जाएगा. इसके लिए मप्र सरकार ने लगभग 2 लाख 30 हजार रुपये की राशि थाई सरकार को ट्रांसफर की है. साथ ही दिल्ली से प्रज्ञा का शव छतरपुर तक लेन के लिए भी वाहन का इंतजाम किया जा चुका है.

वहीं प्रज्ञा के दोनों भाई दीपक और रवि पालीवाल दिल्ली के मध्‍य प्रदेश भवन में पहुंचकर, आवश्यक सभी औपचारिकताओं को पूरा कर लिया गया है.

फूकेट शहर में बाइक हादसे में गई जान
प्रज्ञा छतरपुर के सीताराम कॉलोनी निवासी शिव कुमार पालीवाल की बेटी है. वह बेंगलुरू की अथेंचर कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर थी. वह थाईलैंड की यूनेट बिजनेस कंपनी से भी संबद्ध थी और यूनेट की कॉन्फ्रेंस थाईलैंड में थी. उसने दोस्तों के साथ मिलकर बैंकाक घूमने की योजना बनाई थी. जब वे घूमने निकले तो, बाइक हादसे में उसकी मौत हों गई. परिवारवालों को इस घटना की जानकारी 9 अक्टूबर को प्रज्ञा की रूम मेट मरियम दी. मरियम बेंगलुरू में प्रज्ञा की रूममेट है.

छतरपुर विधायक ने की मदद की पहल
बता दें कि परिवार के किसी भी सदस्य के पास पासपोर्ट नहीं है, इसलिए परिवार वालों को अपनी बेटी का शव भारत लाने में बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था.

इस बात की जानकारी पीड़िता के भाइयों ने छतरपुर के विधायक आलोक चतुर्वेदी को दी. इसके बाद आलोक चतुर्वेदी ने मप्र सरकार और मुख्यमंत्री कमलनाथ को इस घटना की सूचना दी. इसके बाद मामले की गंभीरता को देखते हुए सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन ने पीड़ि‍त परिवार के दो सदस्यों को शव लाने के लिए दिल्ली भेजने का पूरा इंतजाम किया.

You might also like