डिजिटल चार्जशीट के जरिये पुणे पुलिस आयुक्तालय अपनी तस्वीर बदलने की दिशा में बढ़ा

0
पुणे : साल दर साल चलने वाले केस और इसमें सैकड़ों पन्ने का बोझ संभालने की परेशानी से बचने के लिए पुणे पुलिस भविष्य में कोर्ट में डिजिटल चार्जशीट पेश करने पर जोर देगी। फिलहाल पुलिस आयुक्तालय के जोन 1 में चार्जशीट प्रायोगिक तौर पर डिजिटल रूप में कोर्ट में पेश करने की शुरुआत की गई है। अब तक 89 चार्जशीट डिजिटल रूप में कोर्ट में पेश किया गया है।
जल्द ही इसका अनुकरण शहर के अन्य पुलिस स्टेशनों में भी किया जाएगा।

डॉक्यूमेंट्स को सीडी के स्वरूप में रखकर इस्तेमाल होगा

अपराध के सभी सवाल-जवाब, सबूत को एकत्रित कर कोर्ट में पेश किया जाता है। कई मामलों में चार्जशीट सैकड़ों पन्नों का किसी किसी मामले में हजारों पन्नों का होता है। उसे संभालन कर रखने से ज्यादा महत्वपूर्ण उसकी जब जरूरत हो तब संबंधित वकील, जांच अधिकारी को उपलब्ध कराना होता है। इन सब में कई बार बहुत अधिक समय लगने के साथ ही इस चार्जशीट में  कुछ जानकारियां सरकारी वकील, जांच अधिकारियों को देने के लिए संबंधित रिकॉर्ड रखे जाने की जानकारी नहीं होती है। इसकी खोज करने में काफी सारा समय बर्बाद होता है। इसके विकल्प के रूप में सभी डॉक्यूमेंट्स को सीडी के स्वरूप में रखकर जब जरूरी हो उसका इस्तेमाल किया जाता है।

केस के सभी पन्ने, सबूत स्कैन किया जाता है और उसे एक सीडी में रखा जाता है। यह सीडी कोर्ट में पेश किया जाता है। साथ ही मुख्य डॉक्यूमेंट्स कोर्ट में जमा कराए जाते हैं। केस में जो आरोपी है उसे सभी चार्जशीट सिडी के रूप में दिया जाता है। इसका फायदा जांच अधिकारी, सरकारी वकील और आरोपियों के वकील को होने लगा है। इस डिजिटल चार्जशीट  को मिल रहे रिस्पांस को देखते हुए जल्द ही शहर के सभी पुलिस स्टेशनों में इसे लागू किया जाएगा।

You might also like