वतन वापसी: 5 महीने बाद ओमान से लौटी महिला, सुनाई आपबीती, सुषमा स्वराज को दिया धन्यवाद

0

नई दिल्ली : पोलीसनामा ऑनलाईन- 5 महीने बाद ओमान से लौटी महिला ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को धन्यवाद दिया है। इस दौरान वो अपने साथ हुए आपबीती भी बताई। उन्होंने बताया कि कैसे वो हैदराबाद से ओमान पहुंची और वहां उनके साथ क्या-क्या हुआ। इस महिला का नाम कुलसुम बानो है। उन्हें नौकरी के नाम पर हैदराबाद से ओमान ले जाई गई। इस महिला ने वतन वापसी में मदद के लिए विदेश मंत्रालय और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को धन्यवाद दिया है।

पीड़ित महिला की आपबीती –
पीड़ित महिला ने बताया कि ‘अबरार नाम के एक एजेंट ने पार्लर में ब्यूटीशियन जॉब ऑफर की थी। उसने कहा था कि ओमान की राजधानी मस्कट में प्रति महीने 30,000 रुपए सैलरी मिलेंगे। एजेंट का ऑफर स्वीकार करने के बाद मुझे 17 दिसंबर 2018 को मस्कट भेज दिया गया। वहां पहुंचकर पता चला कि ब्यूटीशियन का कोई जॉब नहीं था। मुझे नौकरानी बनाकर रखा गया। किसी तरह नौकरानी का काम एक महीने करने के बाद मैंने आगे काम करने से मना कर दिया।’

आगे कुलसुम बानो ने बताया कि ‘एंप्लॉयर ने मुझे लोकल एजेंट के घर छोड़ दिया। वहां मुझे बिना खाना खिलाए 10 दिनों तक कमरे में बंद कर दिया गया। इसके बाद मैं किसी तरह भारतीय दूतावास पहुंची और अधिकारियों ने मुझे 4 महीने तक दूतावास में रखा। बाद में मैंने बेटी से संपर्क किया और अपनी समस्या बताई।’

पीड़ित महिला ने बताया, ‘इस मामले में मेरी बेटी ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को पत्र लिखकर शिकायत दर्ज की थी। इसके बाद ओमान स्थित भारतीय दूतावास ने मुझ पर लगाए गए 5 हजार रियाल (ओमान की मुद्रा) देकर वापस भारत भेजने का काम किया। मैं 8 मई को भारत पहुंची। मैं सुषमा स्वराज और भारतीय दूतावास को धन्यवाद देना चाहूंगी। ‘

You might also like