Murlidhar-Mohol

पुणे : पुलिसनामा ऑनलाइन – Murlidhar Mohol | पुणे लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के महायुति के भाजपा उम्मीदवार मुरलीधर मोहोल को विभिन्न संगठनों का समर्थन मिल रहा है. पुणे के 27 हिंदुत्ववादी संगठनों ने मुरलीधऱ मोहोल को समर्थन देने की घोषणा की है. मुरलीधर मोहोल के प्रचार के लिए शहर के विभिन्न भागों में बाइक रैली का आयोजन किया गया. इनमें युवाओं की संख्या उल्लेखनीय रही. मोहोल की बाइक रैली को भारी रिस्पांस मिल रहा है. (Murlidhar Mohol)

मुरलीधर मोहोल को समर्थन की घोषणा करते हुए संगठन के पदाधिकारी ने कहा कि मुरली अण्णा प्रभू श्रीराम के भक्त है. विकास और धर्म एक ही सिक्कू के दो पहलू है. हमारे अण्णा दोनों पक्ष को सक्षमता से संभाल रहे है. अण्णा को वोट देने का मतलब सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वोट देना है. ऐसे में हमारे मुरली अण्णा को समर्थन दे,’ इस मौके पर मुरलीधर मोहोल ने कहा कि जब ऐसी भावनाएं हमारे सामने व्यक्त होती है तो हमें विश्वास हो जाता है कि जिस आस्था और भावना को हम संजोते है वह सिर्फ हमारी नहीं है, वह करोड़ों भारतीय की है.

मुरलीधर मोहोल ने कहा कि सकल हिंदू समाज की ओर से पुणे शहर के कुल 27 हिंदुत्ववादी संगठनों की ओर से बालगंधर्व नाट्यगृह में हिंदू जनसंवाद सम्मेलन का आयोजन किया गया था. इसी मौके पर इन सभी हिंदुत्ववादी संगठनों ने समर्थन दिया. उनके सभी निष्ठावान कार्यकर्ता एकसाथ आए थे. ये लोग एक ही लक्ष्य को लेकर जुनूनी होते है. जब वह किसी को अपना मान लेते है, तब उनके प्रत्येक कार्य में उनका साथ देते है. उनका प्रेम देखकर मैं भावनाओं में बह गया.

मुरलीधर मोहोल ने आगे कहा कि, युवाओं से सीनियर सिटीजन तक हर कोई खुलकर बोल रहे थे. यहां और एक विशेषता देखन को मिली. कई लोग चुनाव मतलब अपनी कई उम्मीदें लेकर खड़े हो जाते है. लेकिन इन्होंने पहले भारी मतों से उम्मीदवार को चुनकर लाने, इसके बाद अपने हक की अपेक्षा और काम बताने का इरादा जताया. मूल रुप स अण्णा को काम बताना नहीं पड़ता है. वह काम हो जाता है,’ यह विश्वास के साथ कहा. आज तक के काम से यह विश्वास हमने कमाया है, इसका संतोष हो रहा है. यह सम्मेलन सही अर्थों में काफी मानसिक मजबूती देगा.

छत्रपति शिवाजी महाराज, छत्रपति संभाजी महाराज व प्रभू श्रीराम के पूजन से कार्यक्रम की शुरुआत हुई. इस सम्मेलन में प्रमुख वक्ता विश्व हिंदू परिषद के केंद्रीय सहमंत्री शंकर गायकर ने श्रीराम मंदिर के संघर्ष का जिक्र करते हुए हिंदू के तौर पर संगठित रहने की अपील की. इस सम्मेलन में किशोर चव्हाण, पराग ठाकूर, दीपक नागपुरे, स्वप्निल नाईक, लोकेश कोंढरे, संजय भोसले, किशोर येनपुरे, श्रीकांत शिलीमकर, अनिकेत हरपुडे ने भी अपनी राय व्यक्त की. महेश पवले ने कार्यक्रम का सूत्र संचालन किया.

Rajesh Pande-Pune Bjp | मोदी सरकार की शैक्षणिक और युवा नीति की वजह से मोदी को मतदान होगा ; भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष राजेश पांडे

Murlidhar Mohol | गढ़ किलों का संवर्धन करूंगा – मुरलीधर मोहोल

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *