1 जून से बदल जायेंगे रेलवे-राशन कार्ड और फ्लाइट्स से जुड़े ये नियम, जानें क्या पड़ेगा आप पर असर

0

नई दिल्ली : समाचार ऑनलाइन  – लॉकडाउन के दौरान 1 जून यानि कि अब से ठीक तीन दिन बाद से कुछ-कुछ नए नियम लागू हो रहे हैं। कई नियमों में बदलाव हो रहा है। जिसमें रेलवे, बस, राशन कार्ड और एयरलाइन से जुड़े बदलाव शामिल हैं। इसमें कई चीजें सस्ती-महंगी हो रही है। इससे पहले एटीएम, बैंक, इनकम टैक्स, रेल और हवाई यात्रा से जुड़े कई नियमों में बदलाव किये गए थे और अब 1 जून से कई नियमों में बदलाव होने जा रहा है। इसका असर अब आपके जेब पर पड़ेगा। तो जान लेते है क्या-क्या नियम आज से बदल रहे है।

फ्लाइट्स सेवा शुरू –
गोएयर 1 जून से अपनी घरेलू उड़ाने शुरु करने वाला है। इस दौरान कंपनी सरकारी निर्देशों और नियमों का पालन करेगी। बता दें कि सिविल एविएशन मिनिस्टर हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को ट्विटर पर ऐलान किया कि 25 मई से देशभर में घरेलू पैसेंजर उडानें शुरु हो जायेगी लेकिन इसके लिए पैसेंजरों और एयरलाइंस सभी को कुछ खास नियमों का पालन करना पड़ेगा। गोएयर को छोड़कर शुक्रवार से एयरइंडिया सहित सभी भारतीय एयरलाइंस कंपनियों ने घरेलू उड़ानों की बुकिंग शुरु कर दी है।

चलेंगी ट्रेनें –
देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे लोगों की राहत के लिए भारतीय रेलवे एक जून से 200 अतिरिक्त ट्रेनें चलाने जा रहा है। ये 200 ट्रेनें नॉन एसी होंगी। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट करके इस बात की पुष्टि की है। गोयल के मुताबिक, भारतीय रेल एक जून से अपने टाइम टेबल के हिसाब से हर दिन 200 नॉन एसी ट्रेनें चलाने जा रहा है। इन ट्रेनों की बुकिंग जल्द ही शुरू होगी।

पेट्रोल-डीजल हो सकता महंगा –
अप्रैल में लॉकडाउन के कारण पूरे देश में पब्लिक और प्राइवेट ट्रांसपोर्ट पर पाबंदी के कारण फ्यूल की मांग में रेकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई। कई राज्यों ने पिछले दिनों VAT बढ़ाकर फ्यूल महंगा कर दिया और अब इस लिस्ट में एक और राज्य है जहां 1 जून से पेट्रोल और डीजल महंगा हो जाएगा। मिजोरम सरकार ने 1 जून से राज्य में पेट्रोल पर 2.5 फीसदी और डीजल पर 5 फीसदी की दर से वैट बढ़ाए जाने का ऐलान किया है, जिसके बाद राज्य में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी होगी।

राशन कार्ड –
केंद्र सरकार आगामी 1 जून से अपनी महत्वकांक्षी योजना ‘वन नेशन वन राशन कार्ड’ को देशभर के 20 राज्यों मे लागू करने जा रही है. इसके बाद इन 20 राज्यों में राशन कार्डधारक किसी भी प्रदेश के सरकारी राशन केंद्र से राशन की खरीदारी कर सकेंगे। केंद्र सरकार की इस योजना से बड़ी संख्या में गरीब वर्ग के लोगों को बेहद कम कीमत में जरूरी अनाज मुहैया कराया जाता है।

उत्तर प्रदेश रोडवेज –
उत्तर प्रदेश रोडवेज प्रबंधन ने 1 जून से बसें चलाने की कार्ययोजना बनाई है। बशर्ते इस अवधि में कोई नई व्यवस्था शासनस्तर पर न प्रभावी हो। बसों को हरहाल में 30 मई तक फिट करने के निर्देश जारी किए जा चुके हैं। बस संचालन के दौरान जारी गाइडलाइन का शत प्रतिशत पालन कराने की जिम्मेदारी बस अड्डा प्रभारी से लेकर ड्राइवर-कंडक्टर की होगी। मास्क पहने व्यक्ति को ही बस अड्डा परिसर में प्रवेश की छूट रहेगी। बस में कंडक्टर सीट के सामने सेनेटाइजर की बोतल रखी होगी। सेनेटाइज करने के बाद ही यात्री बैठेंगे। बस की क्षमता के आधे ही यात्री सफर कर सकेंगे। सामान्तया 60 सीटर बस में 30 यात्री होंगे।

You might also like