इंसान-वन्यजीवों का बढ़ रहा संघर्ष…हाथी ने महिला को पटक-पटककर मार डाला, गई थी चारा लाने

0

हल्द्वानी. ऑनलाइन टीम – हल्द्वानी के करीब गौलापार में वन विभाग के एक बीट वॉचर की पत्नी को हाथी ने पटक-पटककर मार डाला। बीते एक महीने के दौरान यह तीसरा मामला है, जब जंगली जानवरों के हमले में किसी इंसान की जान चली गई है। तराई वन प्रभाग के मुख्य वन संरक्षक पराग मधुकर थकाते ने डिवीजन के वन अधिकारियों से इस मामले पर रिपोर्ट तलब की है।

नहीं देख पाई हाथियों को : की सीतापुर गांव में 58 साल की पार्वती देवी सोमवार तड़के चारा काटने खेत में गई थीं। जंगल से सटे खेत होने के कारण यहां अक्सर हाथियों की आवाजाही रहती है। चारा काटने के दौरान पार्वती देवी का ध्यान हाथी की तरफ नहीं गया और हाथी ने उन पर हमला बोल दिया। पार्वती की चीख सुनने के बाद तुरंत ही उनके घर वाले और ग्रामीण मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुकी थीं।

बीट वॉचर की पत्नी थी : सीतापुर गांव के ग्राम प्रधान बलवंत राम आर्य ने बताया कि मृतक महिला वन विभाग के बीट वॉचर की पत्नी थी। ग्रामीण परिवेश में रहने के कारण परिवार ने कुछ मवेशी पाल रखे थे, जिनके लिए महिलाएं रोजाना चारा लेने जंगल जाती हैं।

हाथी-बाघ के हमले : चोरगलिया में नंधौर से सटे जंगल में 20 दिन पहले हाथियों ने गश्त कर रही वन विभाग की टीम पर हमला बोल दिया था, जिसमें एक बीट वॉचर की मौके पर ही मौत हो गई। अन्य लोगों ने किसी तरह भाग कर अपनी जान बचाई थी। 23 जून को काठगोदाम इलाके गुलदार एक महिला को अपना निवाला बना चुका है। इसके पहले 25 मई को कालाढूंगी के चूना खान इलाके में बाघ ने एक किशोरी को मार डाला था।

You might also like