अब कचरा नष्ट करने पर मिलेगी इतने की सब्सिडी, जानिए

0

शिवाजीनगर, पोलिसनामा ऑनलाइन – शहर में जीरो प्रतिशत कचरा डंपिंग और 100 प्रतिशत कचरा प्रक्रिया करने का लक्ष्य पाने घर पर ही कचरा नष्ट करने नागरिकों को 1200 रुपए तथा सोसायटियों को एक लाख 20 हजार रुपए की सबसिडी मनपा द्वारा दी जाएगी. प्रमुख रूप से कचरा प्रक्रिया प्रोजेक्ट (यूनिट) खरीदने मनपा द्वारा यह सबसिडी दी जाएगी. जिससे जीरो गार्बेज सिटी का लक्ष्य पूरा करने में पुणे मनपा को बड़ी मदद मिलेगी.

कोर्ट के आदेश के अनुसार जनवरी 2020 से शहर के 100 प्रतिशत कचरे पर प्रक्रिया करने का लक्ष्य मनपा प्रशासन द्वारा सामने रखा है. उसके अनुसार कचरा प्रक्रिया प्रोजेक्ट कार्यान्वित किए गए है. लेकिन अब उससे भी आगे बढ़ते हुए नागरिकों द्वारा घर पर ही कचरा नष्ट करने प्रशासन द्वारा कदम आगे बढ़ाया है. उसके लिए घरेलु स्तर पर कचरा प्रक्रिया यूनिट नागरिकों को खरीदना होगा. उसी यूनिट में कचरा नष्ट करने हेतु नागरिकों में जागृति की जाएगी. उससे आगे जाकर यह कचरा प्रक्रिया यूनिट खरीदने हेतु मनपा द्वारा नागरिकों को और 100 किलो से अधिक कचरा निर्माण करने वाली सोसायटियों को सबसिडी दी जाएगी. उसके लिए मनपा प्रशासन ने घर पर कचरा प्रक्रिया करने वाला उपाय योजनाओं का यूनिट तैयार करने वाले विक्रेताओं का पैनल बनाया है. इस बारे में मनपा प्रशासन ने नीति तैयार की है. उसके अनुसार नागरिकों को इन यूनिटधारकों से कम कीमत में यह यूनिट उपलब्ध कराने के साथ प्रशिक्षण भी दिया जाएगा.

इस दौरान प्रशासन द्वारा बनाई नीति के अनुसार घरेलु यूनिट लेने वाले नागरिकों को 1200 रुपए या यूनिट के कीमत की 25 प्रतिशत रकम अनुदान रूप में दी जाएगी. एक यूनिट की कचरा नष्ट करने की क्षमता करीब एक से डेढ़ किलो इतनी होती है. हर घर से हर रोज इतना ही कचरा तैयार होता है. इस दौरान वर्ष 2000 के बाद की जो सोसायटियां है, उनमें से 100 किलो से अधिक कचरा तैयार करने वाली सोसायटियों, होटल्स और संस्थाओं को उनका कचरा उनके परिसर में नष्ट करना अनिवार्य है.

You might also like