Punit Balan

पुनीत बालन की पहल से मंडल की बैठक में निर्णय, मंडल के कार्यकर्ता संसद में चाहिए ; कार्यकर्ताओं ने व्यक्त की भावना

पुणे : पुलिसनामा ऑनलाइन – Pune Lok Sabha | पुणे लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के भाजपा महायुति के उम्मीदवार (Mahayuti BJP Candidate) मुरलीधर मोहोल (Murlidhar Mohol) को प्रमुख सार्वजनिक गणेशोत्सव मंडलों के साथ, नवरात्रौत्सव और ढोल-ताशा टीम ने अपना समर्थन दिया है. गणेश मंडल के कार्यकर्ता संसद में जाना चाहिए, उनके जरिए ही पुणे की समस्याओं के साथ गणेश मंडलों की समस्याओं को सरकार के दरबार में रखा जाएगा और उसका समाधान होगा. यह भावना मंडल के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने इस मौके पर व्यक्त की. (Pune Lok Sabha)

श्रीमंत भाऊसाहेब रंगारी गणपति (Shrimant Bhausaheb Rangari Ganpati) ट्रस्ट के उत्सव प्रमुख व ट्रस्टी पुनीत बालन (Head of Festival and Trustee Punit Balan) की पहल से प्रमुख सार्वजनिक गणेश मंडल, नवरात्र मंडल और ढोल-ताशा टीम के सम्मेलन का शुभारंभ लॉन्स में आयोजित किया गया था. इस सम्मेलन में उम्मीदवार मुरलीधर मोहोल के साथ सुनील रासने, महेश सूर्यवंशी, शैलेश तिलक, राहुल जाधव, नितिन पंडित, विकास पवार, सूर्यकांत पाठक, धीरज घाटे, निलेश वकील, संजीव जावले, युवराज निंबालकर, नवनाथ पठारे, हेमंत रासने, राजेंद्र अण्णा देशमुख, प्रवीण तरडे, अजय भोसले, आनंद सागरे के साथ विभिन्न मंडलों के पदाधिकारी और कार्यकर्ता बड़ी संख्या में उपस्थित थे.

इस स्म्मेलन में बोलते हुए पुनीत बालन ने कहा कि इस सम्मेलन के बाद मुझसे कई लोगों ने पूछा कि आप भाजपा का काम करते है क्या, इस पर मैंने कहा कि मैं किसी पार्टी का राजनीतिक कार्यकर्ता नहीं हूं बल्कि गणेश मंडल का कार्यकर्ता हूं. मुरलीधर मोहोल गणेश मंडल के कार्यकर्ता है और वे दोस्त है. गणेश मंडल लोगों को जोड़ता है. राजनीतिक, सामाजिक हो अथवा कोविड, स्वाईन फ्लू जैसे संक्रामक बीमारी मंडल के कार्यकर्ता सड़क पर उतरते है. हमें अपने कार्यकर्ता को दिल्ली भेजना है. मंडल के कार्यकर्ता घर घर पहुंचते है. इसलिए आने वाले १3 मई को किसी के दबाव में न आकर अधिक से अधिक मतदान हो इसका प्रयास करने की अपील बालन ने की.

श्रीमंत दगडूशेठ हलवाई गणपति मंडल के महेश सूर्यवंशी ने कहा कि, सास्कृतिक, खेल, शिक्षा और आईटी जैसे सभी क्षेत्र में पुणे का देशभर में नाम है. इसे और बढ़ाना हो तो मंडल का कार्यकर्ता संसद में चाहिए. इसलिए अपने मोहोल को समर्थन देना होगा. वे संसद में गए तो निश्चित रुप से मंडल की समस्याएं सरकार के दरबार में पहुंचेगी.

ढोल ताशा महासंघ के पराग ठाकूर ने कहा कि, जैसे मंडलों के पास गणपति से जुड़ी समस्याएं है वैसे ही किसी भी शुभ काम की शुरुआत करने वाले ढोल ताशा टीम की भी है. इन समस्याओं का हल करने के लिए अपना सांसद होना चाहिए.

प्रस्तावना में नितिन पंडित ने कहा कि उत्सव को राजाश्रय मिलना बेहद आवश्यक है. इसके लिए अपने मंडल के कार्यकर्ता को सांसद बनना चाहिए. इस मौके पर भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष चन्द्रशेखर बावनकुले, राजेश पांडे, श्रीनाथ भिमाले, शैलेश तिलक, अभिनेता प्रवीण तरडे, धीरज घाटे के साथ कईयों ने अपनी भावना व्यक्त करते हुए मोहोल के प्रति अपने समर्थन की घोषणा की. गणेश मंडलों के समर्थन से मोहोल के पक्ष में चुनाव में बड़ी ताकत खड़ी रहेगी. इसका फायदा उन्हें भारी वोटों के रुप में होने की संभावना जताई जा रही है.

दस बजे और स्पीकर बंद हुआ

गणेशोत्सव में नियमों का पालन करने वाले मंडलों ने इस बैठक में भी नियमों का पालन किया. बैठक चल रही थी और पदाधिकारी स्टेज पर बोल रहे थे तभी घड़ी में 10 बजा. इस दौरान आयोजक ने आदर्श आचार संहिता का पालन करते हुए तुरंत माइक और स्पीकर बंद कर दिया. और स्टेज पर बैठी मंडली नीचे उतरकर भोजन कर बैठक सम्पन्न की.

Murlidhar Mohol | उद्योगों के विकास को बढ़ावा देकर बेरोजगारी की समस्या का समाधान करूंगा– मुरलीधर मोहोल

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *