चीन के खिलाफ अब एकजुट हुए दुनिया के चार ताकतवर देश, ब्रिटेन ने भी दी धमकी

0

नई दिल्ली : समाचार ऑनलाइन – चीन अपनी हरकतों की वजह से कई देशो की आँखों में खटकने लगा है. अमेरिका के बाद उसे ब्रिटेन ने भी धमकी दी है. यह धमकी उसे होन्ग कोंग में नए सुरक्षा कानून लाने के खिलाफ दी गई है. कई देश इस मामले में एकजुट हो गए है. गुरुवार को यूके, यूएस, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा ने संयुक्त रूप से बयान जारी कर चीन की आलोचना की और कहा कि हांगकांग में नया सुरक्षा कानून 1984 के ब्रिटेन-चीन के समझौते का उल्लंघन है और इससे उसकी आजादी पर खतरा पैदा होता है।

नए सुरक्षा कानून के जरिये हांगकांग की की स्वतंत्र क़ानूनी व्यवस्था को चीन खत्म कर देना चाहता है। हांगकांग में अपराधियों को चीन को प्रत्यार्पित करने वाले कानून के विरोध में कई महीने तक विरोध प्रदर्शन हुए थे. दुनिया भर में हो रहे विरोध के बावजूद चीन दलील देता है कि शहर में अपराध, आतंकवाद और विदेशी ताकतों के हस्तक्षेप को रोकने के मकसद से यह कानून लाया जा रहा है।

चार देशो ने संयुक्त रूप से बयान जारी कर कहा कि हांगकांग अपनी स्वतंत्र पहचान के साथ फलता फूलता रहा है, नए सुरक्षा कानून से हांगकांग के लोगो की स्वतंत्रता कम होगी और हांगकांग की स्वयत्तता और इसे समृद्ध बनाने वाली पूरी व्यवस्था तहस नहस हो जाएगी। वही यूके, यूएस, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा ने कहा है कि नया कानून ब्रिटेन के साथ हुए चीन के समझौते का उल्लंघन है. हांगकांग के लोगों के मन में चीन के खिलाफ गुस्सा बढ़ गया है। बयान में कहा गया है कि हमें इस बात की बहुत चिंता है कि इस कदम से हांगकांग के समाज में गहरे मतभेद पैदा हो जाएंगे चारो देशो ने चीन को हांगकांग के साथ मिलकर काम करने और उसका सम्मान करने के लिए कहा है।

You might also like