Coronavirus : कोरोना महामारी से गंभीर मरीजों की जान बचा सकता है स्टेरॉयड, WHO ने जारी की नई एडवाइजरी

0

नई दिल्ली : ऑनलाइन टीम – कोरोना वायरस को लेकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर हुए क्लिनिकल ट्रायल में यह बात सामने आई है कि सस्ते, व्यापक रूप से उपलब्ध स्टेरॉयड दवाएं गंभीर रूप से बीमार रोगियों को कोविड-19 से बचने में मदद कर सकती हैं। सबूतों के आधार पर, विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने नई एडवाइजरी जारी की है। इसके मुताबिक, कोरोना की वजह से गंभीर रूप से बीमार रोगियों के इलाज के लिए स्टेरॉयड का इस्तेमाल किया जा सकता है, लेकिन शुरुआती लक्षण वाले रोगियों के लिए इसका इस्तेमाल नहीं होगी।

WHO ने कहा कि स्टेरॉडय की दवा से 1700 मरीजों पर सात अलग अलग जगह पर तीन तरह के ट्रायल किए गए हैं। ट्रायल के नतीजों में यह बात सामने आई है कि स्टेरॉयड की दवा के इस्तेमाल से कोरोना मरीजों की मौत का जोखिम कम हुआ है। डेक्सामेथासोन, हाइड्रोकार्टिसोन और मिथाइलप्रेडिसोलोन जैसे स्टेरॉयड अक्सर डॉक्टरों द्वारा मरीज के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने, सूजन और दर्द को कम करने के लिए उपयोग किया जाता है। कई कोविद -19 रोगियों की मृत्यु वायरस से नहीं, बल्कि संक्रमण के की वजह से कमरोज हुई शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली की वजह से होती है।

JAMA के प्रधान संपादक डॉ हावर्ड सी बाउचर ने कहा, कि कोरोना संक्रमण के चलते जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे मरीजों को बचाने के लिए स्टेरॉयड काफी मददगार है। गंभीर रूप से बीमार मरीजों के लिए अबतक रेमडिसीवर का इस्तेमाल किया जा रहा था। इस शोध से पता चलता है कि स्टेरॉयड बीमार कोविड -19 रोगियों का जीवन बचाने में मदद करता है।

You might also like