अफसरों के मनाने के बावजूद सोनभद्र जाने की जिद पर अड़ीं प्रियंका

0

मिर्जापुर : पुलिसनामा ऑनलाईन – कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा सोनभद्र में दस लोगों की हत्या के बाद वहां धारा 144 लागू होने के बाद भी पीड़ितों से मिलने की जिद पर अड़ी रहीं। उन्हें तड़के लगभग साढ़े चार बजे नींद आई। उनके निजी सचिव संदीप ने बताया कि भीषण गर्मी में बार-बार बिजली कटौती से परेशान प्रियंका गेस्ट हाउस के दूसरी ओर अकेले टहलती रहीं। प्रियंका गांधी तड़के करीब साढ़े चार बजे सोने के लिए कमरे में गईं।

चुनार किले के गेस्ट हाउस में कैद प्रियंका गांधी ने रात में उमस भरी गर्मी के बीच गेस्ट हाउस की कैंटीन का ही भोजन किया। प्रियंका को मनाने के लिए मिर्जापुर और वाराणसी मंडलों के मंडलायुक्त शनिवार देर रात वहां पहुंचे। इनके साथ एडीजी पुलिस मौजूद रहे लेकिन वार्ता बेनतीजा साबित हुई। इसके बाद शनिवार सुबह से ही कार्यकर्ताओं का गेस्ट हाउस आना शुरू हो गया।

प्रियंका वाड्रा ने रात को चुनार गेस्ट हाउस में दाल, चावल और सब्जी का ही भोजन किया। वहां पर अन्य कार्यकर्ताओं के लिए भोजन के पैकेट्स आए। कार्यकर्ताओं ने कहा, “प्रियंका गांधी को गिरफ्तार करने के बाद वहां की बिजली पानी कटवा दी गई है, उन्हें देश की सर्वोच्च सुरक्षा प्राप्त है, भगवान न करे पर कोई अनहोनी होती है तो उसके लिए नेहरू जी नहीं भाजपा सरकार जिम्मेदार होगी।”

गेस्ट हाउस पर सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के साथ कांग्रेस नेता पीएल पुनिया के साथ विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह तथा प्रवक्ता पंखुड़ी पाठक जैसे नेता आगे की रणनीति तय कर रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजी) कानून-व्यवस्था पीवी रामाशास्त्री ने बताया, “प्रियंका गांधी वाड्रा हिरासत में हैं। प्रियंका गांधी को शुक्रवार को एसडीएम ने सोनभद्र जाने से रोका था। एसडीएम ने अपने अधिकारों का प्रयोग करके उस इलाके में धारा 144 लगाई थी। धारा 144 का उल्लंघन करने पर प्रियंका गांधी को रोका गया है।”

फिलहाल प्रियंका गांधी को चुनार गेस्ट हाउस में हिरासत में रखा गया है। बॉन्ड भरने पर प्रियंका गांधी को छोड़ा जाएगा। उधर लोकल फॉल्ट के कारण चुनार गेस्ट हाउस की बिजली जाने से प्रियंका गांधी अंधेरे में ही कार्यकर्ताओं से मिलती रहीं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like