राधाकृष्ण विखे पाटिल समेत 14 नेताओं को लगा बड़ा झटका 

0

पुणे : पोलिसनामा ऑनलाईन – लोकसभा चुनाव के बाद से राष्ट्रवादी कांग्रेस और कांग्रेस पार्टी के कई बड़े नेता पार्टी छोड़कर चले गए है. पार्टी छोड़ने वाले ये नेता शिवसेना-बीजेपी में गए है. सत्ता में शिवसेना-बीजेपी के फिर से आने को लेकर आश्वस्त इन नेताओं ने बड़ी उम्मीदों के साथ पार्टी छोड़ी थी. लेकिन राज्य की मौजूदा स्थिति को देखने के बाद पार्टी बदलने वाले इन नेताओं को अच्छा खासा झटका लगा है. राष्ट्रवादी-कांग्रेस के कई बड़े नेताओं ने पार्टी बदल कर अपने ही पैर पर कुल्हाड़ी मार ली है. ऐसे में इन नेताओं के लिए कहा जा सकता है कि ये घर के रहे न घाट के.

 कई बड़े नेताओं ने पार्टी बदली थी 
राष्ट्रवादी कांग्रेस और कांग्रेस पार्टी से राधाकृष्ण विखे पाटिल, गणेश नाइक, शिवेंद्रराजे भोसले, भास्कर जाधव, अब्दुल सत्तार, रश्मी बागल, नारायण राणे, दिलीप सोपल, संजय मामा शिंदे, रणजीतसिंह मोहिते-पाटिल, नमिता मुंदरा, संजय दिना पाटिल, अवधूत तटकरे, राणा जगजीतसिंह जैसे बड़े नेता खुद से पार्टी छोड़ कर भाजपा-शिवसेना में चले गए. किसी को सत्ता का लालच था तो किसी को कार्रवाई से बचने के लिए सत्ता का झंडा अपने हाथ में ले लिया।
पार्टी बदलने वालों को गहरा झटका लगा है
मौजूदा स्थिति में राज्य में राष्ट्रवादी कांग्रेस-कांग्रेस आघाडी की सरकार बनने के आसार नज़र आ रहे है. इस तरह पार्टी बदलने वालों को गहरा झटका लगा है. भाजपा ने मेगा भर्ती के जरिये कई दिग्गज नेताओं को पार्टी में प्रवेश दिया था. पार्टी बदल कर भाजपा के होने के बाद इन नेताओ को कई तरह की उम्मीदे थी. लेकिन आज ये सारी उम्मीदे टूटती नज़र आ रही है.
You might also like