प्रेमी संग मिलकर पति को उतारा ‘मौत’ के घाट, लिपस्टिक ने खोला ‘राज’   

0

मुंबई : पोलिसनामा ऑनलाईन – अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति को मौत के घाट उतारने वाली आरोपी बीवी अब पुलिस के हत्थे चढ़ गई है. काफी दिनों तक आरोपी महिला पुलिस को गुमराह करती रही. लेकिन अब पुलिस ने एक लिपस्टिक के आधार पर महिला के झूठ को उजागर कर दिया है. पुलिस इतने दिनों से जिस झूठ से पर्दा उठाने में लगी हुई थी, उसका रहस्य लिपस्टिक में छुपा था. अब पुलिस ने आरोपी पत्नी दीप्ति पाटणकर और उसके प्रेमी समाधान पाषाणकर को घिनौना कृत्य करने के अपराध में गिरफ्तार कर लिया है.

क्या है मामला

यह मामला मुंबई के भायंदर का है. दीप्ति की शादी प्रमोद पाटणकर से हुई थी. लेकिन साल 2015 से दीप्ती के अपने रिश्ते के भाई समाधान से प्रेम संबंध शुरू हो गए. इसकी भनक प्रमोद को लग गई. इसके बाद दीप्ती और प्रमोद के रिश्ते में दरार आ गई. प्रमोद अपनी पत्नी दीप्ती को इस वजह से परेशान करने लगा. इन सब से छुटकारा पाने के लिए दीप्ती और समाधान ने कोई समाधान निकालने की सोची. आखिर में दोनों ने प्रमोद को रास्ते से हटाने की साजिश रची.

पहली नींद की गोलियां खिलाई, फिर घोंटा गला

अपनी साजिस को अंजाम देने के मकसद से 15 जुलाई, 2019 को प्रमोद की हत्या करने से पहले 14 जुलाई की रात को दीप्ती अपनी छोटी बेटी को उसके माता-पिता के पास छोड़ आई थी.15 जुलाई की सुबह उसने प्रमोद की चाय में 20 नींद की गोलियां मिलाकर पीला दी. चाय पीने के बाद प्रमोद सोने चला गया. दीप्ति ने इसके बाद समाधान को बुलाया. फिर दीप्ति  और समाधान ने मिलकर प्रमोद का गला घोंटकर हत्या कर दी.

दूसरी महिला का नाम फंसे, इसलिए कप पर लिपस्टिक से बनाए निशान

हत्या को घटना का रूप देने के लिए दीप्ती ने बहाना बनाया कि प्रमोद ने दूसरी महिला को घर बुलाया था और उसके साथ चाय पी. कहानी को असली जामा पहनाने के लिए समाधान ने अपने होंठ पर लिपस्टिक लगाकर चाय के कप पर लिपस्टिक लगा दी. इसके बाद बेडरूम का सामान अस्त-व्यस्त कर दिया. उन्होंने पुलिस को दिखाना चाहा कि महिला ने लुट के मकसद से प्रमोद की हत्या कर दी.

हालांकि, जो लिपस्टिक कप पर लगाई गई थी, उसी लिपस्टिक के आधार पर केस सच सामने आ सका. पुलिस ने कप पर लगी लिपस्टिक की पहचान कर ली और इस तरह दोनों आरोपियों का राज खुल सका.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like